close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

वाहन चेकिंग पर भड़के SP विधायक नाहिद हसन, धमकी देते हुए पुलिस अधिकारियों से की बदसलूकी

शामली जनपद में एक बार फिर कैराना (Kairana)विधायक की बदसलूकी और तानाशाही का मामला देखने को मिला है. ट्रैफिक नियमों की धज्जियां उड़ा रहे कैराना (Kairana)से समाजवादी पार्टी के विधायक नाहिद हसन

वाहन चेकिंग पर भड़के SP विधायक नाहिद हसन, धमकी देते हुए पुलिस अधिकारियों से की बदसलूकी

शामली,श्रवण पंडित: शामली जनपद में एक बार फिर कैराना (Kairana)विधायक की बदसलूकी और तानाशाही का मामला देखने को मिला है. ट्रैफिक नियमों की धज्जियां उड़ा रहे कैराना (Kairana)से समाजवादी पार्टी के विधायक नाहिद हसन की गाड़ी जब पुलिस ने रोकी तो नाहिद हसन पहले तो पुलिस वालों पर ही भड़क उठे. मामले की सूचना मिलते ही एसडीएम कैराना (Kairana)और सीओ कराना मौके पर पहुंचे. जब एसडीएम कैराना (Kairana)ने गाड़ी के कागज चेक कराने की बात कही तो उन्होंने साफ कहा कि मैं खेत पर आया था. गाड़ी के कागजों की चेकिंग से विधायक नाहिद हसन ने एसडीएम कराना डॉक्टर अमित पाल और कैराना (Kairana)सीओ राजेश कुमार को जमकर खरी-खोटी सुनाई.

विधायक ने अपनी मर्यादा छोड़ एसडीएम और सीओ को धमकी देते हुए नजर आए. घटना के दौरान करीब पानीपत खटीमा हाईवे मार्ग पर घंटों तक जाम बना रहा. काफी देर तक का चले इस हाईवोल्टेज ड्रामे के दौरान पानीपत खटीमा मार्ग पर काफी देर तक का जाम लगा रहा. मौके से विधायक और एसडीएम के जाने के बाद जाम खुला और यातायात को सुचारू रूप से चलता किया गया.

गौर करने वाली बात है कि कैराना (Kairana)विधायक नाहिद हसन पहले भी अधिकारियों से बदतमीजी करने गाली गलौज देने के मामलों में चर्चाओं में रह चुके हैं आज तक नाहिद हसन के खिलाफ कोई भी सख्त कानूनी कार्रवाई नहीं हुई है. जबकि पहले भी कुछ साल पहले एक लेखपाल का अपहरण कर सरकारी कार्य में बाधा डालने और उस और जबरदस्ती काम कराने के मामले में मुकदमा दर्ज हुआ था.

तो वही कुछ दिनों पहले बीजेपी सरकार में ही बीजेपी समर्थक व्यापारियों से समान ना लेने की वीडियो वायरल हुई थी जिसमें कैराना (Kairana)नाहिद हसन विधायक अपने मुस्लिम भाइयों से साफ तौर से मुस्लिमों को बीजेपी समर्थक लोगों से सामान की खरीद फरोख्त ना करने की हिदायत दे रहे थे. वहीं इस मामले में जब एडिशनल एसपी से बात करने की कोशिश की तो इस मामले में वह कुछ भी बोलने से बचते रहे.