बरेली में आदमखोर कुत्तों की दहशत, बच्चे को नोच-नोच कर मार डाला

बरेली में आदमखोर कुत्तों ने एक बच्चे की जान ले ली. इससे पहले भी आदमखोर कुत्तों ने कई लोगों को अपना शिकार बनाया है, लेकिन पुलिस कुछ नहीं कर रही है.

बरेली में आदमखोर कुत्तों की दहशत, बच्चे को नोच-नोच कर मार डाला
अस्पताल पहुंचने से पहले रास्ते में तोड़ा दम. (प्रतीकात्मक फोटो)

बरेली: सीतापुर के बाद अब बरेली में आवारा कुत्तों का आतंक बढ़ता ही जा रहा है. सीबीगंज में आदमखोर कुत्तों ने दस साल के बच्चे पर हमला कर दिया और उसे नोच-नोच कर बुरी तरह घायल कर दिया. आस-पास के लोगों की नजर जब बच्चे पर पड़ी तो लोगों ने किसी तरह उसे कुत्तों के चंगुल से आजाद कराया और उसे इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज ले जाया गया. डॉक्टरों ने उसे मृत लाया हुआ घोषित कर दिया.

मीरगंज के रहने वाले ओम प्रकाश की पत्नी गुड्डी सीबीगंज की डूडा कॉलोनी में काम करने आती है. महिला के साथ उसका दस साल का बेटा रितिक भी आता था. 10 जुलाई को वह काम करने लगी और उसका बेटा वहीं जंगल के आसपास खेलने लगा.

 

 

इसी दौरान आवारा कुत्तों के झुंड ने उसपर हमला कर दिया और उसे नोचने लगे. उसके चिल्लाने पर आसपास के लोग दौड़े और कुत्तों को वहां से मारकर भगाया. तब तक वह बुरी तरह से घायल हो चुका था. आनन-फानन में उसे अस्पताल ले जाया गया, लेकिन बीच रास्ते में ही उसकी मौत हो गई.

आदमखोर कुत्तों ने आठ साल के मासूम को बनाया शिकार, अस्पताल में भर्ती

कुत्तों के हमले का ये कोई पहला मामला नहीं. इससे पहले भी बच्चे कुत्तों के हमले में अपनी जान गंवा चुके हैं. बरेली की बहेड़ी तहसील में कुत्तों के हमले में सबसे ज्यादा मौत हुई है. बच्चों की मौत के बाद प्रशासन बड़े बड़े दावे करता है और अभियान भी चलता है लेकिन कुछ दिनों बाद प्रशासन हाथ पर हाथ रख कर बैठ जाता है.

सीतापुर: दो महीने बाद फिर आदमखोर कुत्तों की दहशत, 7 बच्चों को किया घायल

सीतापुर में भी करीब दो महीने से शांत आदमखोर कुत्तों ने अपने आतंक से एक बार फिर दहशत फैला दी. मंगलवार (10 जून) को अलग-अलग थाना क्षेत्रों में 7 बच्चों पर हमला कर उन्हें घायल कर दिया. बच्चों की रोने और चिल्लाने की आवाज सुनकर ग्रामीण लाठी-डंडे लेकर दौड़े. तब तक कुत्तों ने बच्चों को बुरी तरह जख्मी कर दिया था. बच्चों को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां से 3 बेहद गंभीर बच्चों को लखनऊ के ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया है.