चेकिंग के दौरान पुलिस पर डॉक्टर को पीटने का आरोप, अस्पताल में हड़ताल

अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के लोगों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इस आपात स्थिति में डॉक्टरो से बदसलूकी बर्दाश्त नहीं की जाएगी, दूसरी तरफ पीलीभीत में एक कोतवाल पर ही लॉकडाउन के दौरान चेकिंग के नाम पर एक डॉक्टर को पीट देने के आरोप लग रहे हैं. 

चेकिंग के दौरान पुलिस पर डॉक्टर को पीटने का आरोप, अस्पताल में हड़ताल

दिलीप मिश्रा / लखीमपुर: कोरोना संक्रमण से जूझ रहे पीलीभीत में लॉकडाउन का सख्ती से पालन करवाने के चक्कर में एक कोतवाल पर एक डॉक्टर को ही पीट देने के आरोप लग रहे हैं। बड़ी बात ये है कि कोतवाल की इस हरकत से नाराज हो कर पीलीभीत में डॉक्टर हड़ताल पर चले गए. इस हड़ताल में डॉक्टरों ने न सिर्फ जिला अस्पताल में इमरजेंसी सेवाएं ठप कर दीं बल्कि पोस्टमार्टम ड्यूटी से भी इंकार कर दिया.

हड़ताल पर गए डॉक्टर आरोपी कोतवाल के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग कर रहे हैं. वहीं डॉक्टरों की हड़ताल से पीलीभीत में गंभीर संकट की स्थिति बन गई क्योंकि शहर में दो लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है जबकि चार लोग क्वारंटीन किए गए हैं. बताया जाता है कि ये सभी लोग एक परिवार के सदस्य हैं. कतर से आए छह लोगों को वहां पहले ही क्वारंटीन किया जा चुका है. इसके बाद से शहर में कोरोना संकट को लेकर बड़ी सतर्कता बरती जा रही है. 

इन हालात के बीच सदर कोतवाल अजय मिश्रा पर लखनऊ ट्रेनिंग के लिए जा रहे सीनियर फिजिशियन डॉ. आरएच मधोरिया को पीटने का आरोप लगा है. घटना शहर के एलआरपी रोड की है जहां कोरोना के मद्देनजर लॉकडाउन की वजह से पुलिस बेवजह आनेजाने वालों के साथ सख्ती बरत रही थी. आरोप है कि इसी दौरान वहां मौजूद सदर कोतवाल अजय मिश्रा ने डॉ. आरएच मधोरिया को पीट दिया. डॉ. मधोरिया का आरोप है कि वो ड्यूटी करने के बाद निकले थे और लखनऊ ट्रेनिंग के लिए जा रहे थे. उन्होंने पुलिस को सारे दस्तावेज भी दिखाए थे. इसके बावजूद कोतवाल अजय मिश्रा ने उनसे बदसलूकी की

WATCH LIVE TV