close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

PUBG वाले हथियार लेकर स्कूल पहुंच गए छात्र, दहशत में बच्चों की निकल गई चीख

बच्चों ने बताया कि पब्जी गेम में इसी तरह का समान इस्तेमाल होता है और उसी को देखकर उन्होंने यह पिस्टल और चाकू खरीदा है.

PUBG वाले हथियार लेकर स्कूल पहुंच गए छात्र, दहशत में बच्चों की निकल गई चीख
स्कूल के प्रिंसिपल ने बच्चों के अभिभावकों स्कूल बुलाया और अनुशासन समिति से छानबीन कराकर एक हफ्ते के लिए स्कूल से निष्कासित कर दिया है.

दीप चंद्र जोशी/मुरादाबाद: लगतार बढ़ रही पब्जी (PUBG) गेम की लत से कई लोगों की जान जा चुकी है. पब्जी गेम पर कई देशों ने पाबंदी भी लगा रखी है, लेकिन इसका क्रेज इतना है कि छोटा हो या बड़ा जिसको इसकी एक बार लत लग जाए, उसकी लत आसानी से छूटती नही है. इन सबके बीच पब्जी गेम से प्रेरित होकर उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में 7वीं और 8वीं के कुछ बच्चे स्कूल में चाकू और पिस्टल लेकर पहुंच गए. मामला मुरादाबाद के केंद्रीय विद्यालय का बताया जा रहा है.

दरअसल, मुरादाबाद के केंद्रीय विद्यालय में कक्षा सात और आठ के छात्र पब्जी गेम के इतने दीवाने हैं कि वो गेम में इस्तेमाल होने वाले पिस्टल व चाकू लेकर क्लॉस में पहुंच गये. क्लास में पढ़ने वाले अन्य बच्चों ने जब इन पांचों बच्चों के पास तेज़ धार वाले चाकू व बिल्कुल असली नजर आने वाले पिस्टल को देखा, तो वह घबरा गए. बच्चों ने शोर मचा दिया और तब टीचर को इस पूरे मामले की जानकारी हुई. बच्चों के पास चाकू व पिस्टल देखकर स्कूल के प्राचार्य को सूचना दी गई. बच्चों को प्राचार्य ऑफिस में बुलाया गया. 

 

वहीं, प्राचार्य ने जब बच्चों के पास तेज़ धार वाले चाकू और बिल्कुल असली जैसी नजर आने वाली चाइनीज़ पिस्टल देखी, तो एक बार तो वह भी घबरा गए. बच्चों से चाकू और पिस्टल के बारे में पूछताछ की गई तो पता चला कि बच्चों ने ये सामान खरीदा है. बच्चों ने बताया कि पब्जी गेम में इसी तरह का समान इस्तेमाल होता है और उसी को देखकर उन्होंने यह पिस्टल और चाकू खरीदा है. स्कूल के प्रिंसिपल ने बच्चों के अभिभावकों स्कूल बुलाया और अनुशासन समिति से छानबीन कराकर एक हफ्ते के लिए स्कूल से निष्कासित कर दिया है.