Baghpat: युवक के सुसाइड मामले में इंस्पेक्टर समेत 11 पुलिसकर्मी लाइन हाजिर, परिजन कर रहे बर्खास्तगी की मांग

वेक्सिनेशन सेंटर पर गए गांव के ही युवक अक्षय के साथ मौके पर मौजूद दरोगा और पुलिसकर्मियों के विवाद के बाद मारपीट हो गई थी जिसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था. उसके बाद थाना अध्यक्ष मय पुलिस टीम के अक्षय के घर पर पहुंचे और उनके घर मे तोड़फोड़ कर दी थी. 

Baghpat: युवक के सुसाइड मामले में इंस्पेक्टर समेत 11 पुलिसकर्मी लाइन हाजिर, परिजन कर रहे बर्खास्तगी की मांग

कुलदीप चौहान/ बागपत:  उत्तर प्रदेश के बागपत जिले में बीए के छात्र ने सोमवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. आरोप है कि पुलिस वालों ने युवक के घर में तोड़-फोड़ की जिससे युवक घबरा गया. युवक के सुसाइड मामले में एसपी ने इंस्पेक्टर समेत 11 पुलिसकर्मियों को किया लाइन हाजिर किया है. पीड़ितों की तहरीर पर इंस्पेक्टर समेत पांच पुलिसकर्मियों और एक अज्ञात के विरुद्ध बिनोली थाने में मुकद्दमा दर्ज किया गया है. फिलहाल गांव में तनावपूर्ण माहौल बना हुआ है.

ग्राम पंचायत अधिकारी को पूर्व ब्लाक प्रमुख ने कमरे में बुलाकर पीटा, जानिए पूरा मामला?

 

ये है पूरा मामला
पुलिस और मृतक युवक के बीच सेंटर पर हुआ था विवाद
आपको बता दें कि मामला बिनोली थाना क्षेत्र के रंछाड गांव का है जहां सोमवार को सुबह के वक्त वेक्सिनेशन सेंटर पर गए गांव के ही युवक अक्षय के साथ मौके पर मौजूद दरोगा और पुलिसकर्मियों के विवाद के बाद मारपीट हो गई थी जिसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था. उसके बाद थाना अध्यक्ष मय पुलिस टीम के अक्षय के घर पर पहुंचे और उनके घर मे तोड़फोड़ कर दी थी. 

Weather Update: जोरदार बारिश से हुई दिल्ली-एनसीआर वालों की सुबह, मौसम हुआ सुहावना

युवक ने जंगल में पेड़ पर फंदे से लटककर की थी आत्महत्या
घर से फरार युवक ने पुलिस के डर से जंगल में पेड़ पर फंदे से लटककर आत्महत्या कर ली थी जिसके बाद परिजन और ग्रामीण शव को गांव में ही रखकर पुलिस के खिलाफ देर रात जमकर हंगामा करते हुए आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. जिसको देखते हुए कई थानों की पुलिसफोर्स भी मौके पर लगाया गया. 

बच्ची को बचाने के लिए खूंखार भेड़िए से भिड़ गया छोटा सा डॉगी, देखिए कैसे कर रहा मुकाबला?

कौन-कौन हुआ लाइन हाजिर ओर किस- किस पर मुकद्दमा हुआ दर्ज 
रंछाड गांव के युवक अक्षय के सुसाइड करने के इस पूरे मामले का संज्ञान लेते हुए एसपी अभिषेक सिंह ने बिनोली थाना अध्यक्ष चंद्रकांत पांडेय , एसएसआई उधम सिंह तालान , दरोगा हरीश चंद त्यागी , मयंक प्रताप सिंह , जितेंद्र सिंह , जितेंद्र ,इलियास , इमरान , दीपक शर्मा ,कुलदीप व राहुल को लाइन हाजिर कर दिया है जबकि वहीं मृतक अक्षय के पिता श्रीनिवास की तहरीर पर थाना अध्यक्ष चंद्रकांत पांडेय ,एसएसआई उधम सिंह तालान , सिपाही सलीम ,अश्वनी , मुरली व एक अज्ञात के विरुद्ध धारा 147, 148,323,506व306 में मुकदमा बिनोली थाने में ही दर्ज कराया गया है.

मृतक के परिजन कर रहे हैं बर्खास्तगी की मांग
मृतक के परिजनों और ग्रामीण अभी पुलिस की इस कार्रवाई से सन्तुष्ट नजर नही आए. उनका कहना है कि उनके बेटे ने कोई अपराध नही किया था जबकि वेक्सिनेशन के दौरान हुए मामले के बाद पुलिस के उत्पीड़न के डर से वह घर से भाग गया था और दहशत में ही उसने सुसाइड कर ली. उन्होंने मांग करते हुए कहा कि लाइन हाजिर की कोई कार्रवाई नही बल्कि उन पुलिसकर्मियों को बर्खास्त करना चाहिए.

मंदिर के सहारे चला 5 करोड़ का ब्राह्मण कार्ड, बीजेपी विधायक ने रखी परशुराम मंदिर की आधारशिला

सामान से भरे ठेले को खींच रहा था शख्स, फिर डॉगी ने जो किया उसे देख कहेंगे-'तेरे जैसा यार कहां'

WATCH LIVE TV