close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

CM योगी, सुषमा स्वराज ने दीप जलाकर किया युवा प्रवासी भारतीय दिवस का आगाज

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारे नेता अटल जी ने 2003 में प्रवासी भारतीय दिवस की शुरुआत की थी.

CM योगी, सुषमा स्वराज ने दीप जलाकर किया युवा प्रवासी भारतीय दिवस का आगाज
फोटो साभारः ANI

वाराणसी: आध्यात्मिक नगर बनारस में प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने दीपक जलाकर तीन दिवसीय ‘प्रवासी भारतीय दिवस’ (Pravasi Bharatiya Diwas 2019) कार्यक्रम का आगाज किया. सोमवार को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर समेत अन्य देश-विदेश के बड़े नेताओं की मौजूदगी में इसकी शुरुआत हुई. पहले दिन यहां कई अहम मुद्दों पर चर्चा होगी, जबकि देर रात को योगी आदित्यनाथ की तरफ से सभी के लिए डिनर का आयोजन किया गया है.

योगी ने संबोधन में लिया अटल जी का नाम
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारे नेता अटल जी ने 2003 में प्रवासी भारतीय दिवस की शुरुआत की थी और तबसे लेकर अब तक दुनियाभर में रह रहे भारतीयों को जोड़ने का काम किया गया है. यूपी को पहला अवसर प्राप्त हुआ है जब हम प्रवासी भारतीय दिवस आयोजित करने का मौका मिला है. 2003 का आयोजन एक दिवसीय था इसके बाद 2014 में 2 दिवसीय आयोजन हुआ, लेकिन ये पहला मौका है जब 3 दिवसीय प्रवासी भारतीय दिवस का आयोजन हो रहा है. 

लोगों का मिला काशी से जुड़ने का मौकाः योगी
इस मौके पर हम सबको काशी के साथ जुड़ने का अवसर प्राप्त हो रहा है, साथ ही प्रयागराजी कुम्भ में जाने का अवसर भी मिलेगा. एक उभरते हुए भारत का दृश्य देखने का मौका 26 जनवरी को दिल्ली में प्राप्त होगा. देश का सबसे बड़ा युवा वर्ग यूपी में है. आप सब ने दुनिया में अपना लोहा मनवाया है, आपका पुरुषार्थ, आपका परिश्रण, आपकी प्रतिभा की वजह से भारत का सम्मान बढ़ता है. 

सब देखेंगे बदलती हुई काशी की तस्वीरः योगी
आज आप बदलती हुई काशी की तस्वीर देखेंगे. उन्होंने कहा कि ये पहला मौका है जब 450 साल बाद प्रयागराज में अक्षयवट और सरस्वती कूप का दर्शन करने का मौका मिलेगा. ये मौका आज इस अवसर में शामिल युवाओं के पूर्वजों को भी नहीं मिला लेकिन आप सौभाग्यशाली हैं जिसे यह सौभाग्य मिल रहा है.

प्रवासी दिवस समारोह की व्यवस्था पर नजर रख रहे उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि आगंतुकों की यात्रा को यादगार बनाने के लिए बनारस में पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं. 

होटल और टेंट सिटी के अलावा शहर के कई परिवारों ने अतिथि देवो भव: की भावना के साथ आने वालों को आतिथ्य सुविधा प्रदान करने की इच्छा प्रकट की है. मुख्यमंत्री ने कहा कि मेहमानों को ठहराने के लिए परिवारों को अनुमति देने की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है.

वाराणसी जिला प्रशासन के सूत्रों ने कहा कि निशुल्क ठहरने की सुविधा प्रदान करने के लिए सैकड़ों परिवारों को चुना गया है. एक ऐप्प भी बनाया गया है जिसपर इसके लिए पंजीकरण किया गया है. काशी के ये परिवार अतिथियों को खाना भी मुहैया कराएंगे.

कार्यक्रम के शेड्यूल पर एक नजर

10.40 बजे संबोधन सुषमा स्वराज, विदेश मंत्री.

11.05 बजेआभार ज्ञापन, सचिव युवा व खेल मंत्रालय.

11.30 बजे अधिवेशन, भारतीय युवा प्रवासियों संग संवाद.

11.30 बजे उप्र प्रवासी दिवस का डा. भीमराव आंबेडकर क्रीड़ा संकुल बड़ालालपुर में उद्घाटन.

2.30 बजे युवा प्रवासी भारतीयों का बीएचयू स्थित स्वतंत्रता भवन में संवाद.

6 बजे सांस्कृतिक कार्यक्रम.