close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सोनभद्र नरसंहार पर बोले स्वतंत्र देव सिंह- 'लाशों पर राजनीति करना कांग्रेस की प्रथा रही है'

 'सोनभद्र की घटना बेहद दुखद है, लेकिन जो भी इस घटना के दोषी हैं उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है और अधिकारी इस पर कार्रवाई भी कर रहे हैं. यह कांग्रेसियों का कुकर्म था, जिसके कारण यह पूरी घटना हुई है.'

सोनभद्र नरसंहार पर बोले स्वतंत्र देव सिंह- 'लाशों पर राजनीति करना कांग्रेस की प्रथा रही है'
सोनभद्र में एक जमीनी विवाद में हुई फायरिंग में 10 लोगों की मौत हो गई थी. (स्वतंत्र देव सिंहः फाइल फोटो)
Play

नई दिल्लीः सोनभद्र नरसंहार के बाद पीड़ित परिवार से मिलने के लिए धरने पर बैठीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी पर उत्तर प्रदेश के नवनिर्वाचित स्वतंत्र देव सिंह ने निशाना साधाते हुए इसे कांग्रेस की राजनीतिक प्रथा करार दिया है. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी पर निशाना साधते हुए स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि 'सोनभद्र की घटना बेहद दुखद है, लेकिन जो भी इस घटना के दोषी हैं उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है और अधिकारी इस पर कार्रवाई भी कर रहे हैं. यह कांग्रेसियों का कुकर्म था, जिसके कारण यह पूरी घटना हुई है.' 

उन्होंने आगे कहा कि 'सोनभद्र में हुई घटना पर प्रियंका गांधी सिर्फ अपनी राजनीतिक रोटियां सेक रही हैं. कांग्रेस के नेता सिर्फ उत्तर प्रदेश का माहौल खराब करना चाहते हैं. वह यही चाहते हैं कि उत्तर प्रदेश का माहौल खराब हो. लाशों पर राजनीति करना हमेशा से ही कांग्रेस की प्रथा रही है. प्रियंका गांधी को अब यह सब खत्म कर देना चाहिए. प्रियंका पीड़ित परिवार से मुलाकात के बाद माहौल खराब कर रही हैं.'

बता दें सोनभद्र में जमीनी विवाद के चलते हुई फायरिंग में 10 लोग मारे गए थे, जिसके बाद शुक्रवार प्रियंका गांधी पीड़ित परिवारों से मिलने के लिए सोनभद्र के लिए निकली थीं, जहां उत्तर प्रदेश प्रशासन ने उन्हें मिर्जापुर में ही रोक लिया था और उन्हें चुनार गेस्टहाउस में रखा गया था. जहां प्रिंयका गांधी ने धरने पर बैठने का ऐलान करते हुए कहा था कि वह पीड़ितों से मिले बिना यहां से नहीं जाएंगी.

पीड़ितों से मिलने के बाद बोलीं प्रियंका, 'जिस मकसद से आई थी, वो पूरा हो गया'

देखें लाइव टीवी

ऐसे में 24 घंटे तक चले हाई बोल्टेज ड्रामे के बाद जिला प्रशासन के अधिकारियों ने प्रियंका गांधी की चुनार गेस्ट हाउस में पीड़ितों से मुलाकात करवाई. जिसके बाद प्रियंका गांधी ने कहा कि वह जिस मकसद से आईं थीं, वह पूरा हो गया है. वहीं जमानत भरने के सवाल पर उन्होंने कहा कि जमानत भरने का कोई मतलब नहीं है, क्योंकि उन्होंने कोई अपराध नहीं किया है.