Corona Crisis: सोमवार से गुलजार होंगे ताजमहल समेत देश के महत्वपूर्ण पर्यटन स्थल

दुनिया के सात अजूबों में शामिल भारत की खूबसूरत इमारत ताजमल पर कोरोना संकट की वजह से जो ग्रहण लगा था, वो अब छंटता हुआ नजर आ रहा है. कई महीनों से बंद पड़े ताजमहल को आखिरकार 6 जुलाई को पर्यटकों के लिए खोल दिया जाएगा.

Corona Crisis: सोमवार से गुलजार होंगे ताजमहल समेत देश के महत्वपूर्ण पर्यटन स्थल
file photo

आगरा: दुनिया के सात अजूबों में शामिल भारत की खूबसूरत इमारत ताजमल पर कोरोना संकट की वजह से जो ग्रहण लगा था, वो अब छंटता हुआ नजर आ रहा है. कई महीनों से बंद पड़े ताजमहल को आखिरकार 6 जुलाई को पर्यटकों के लिए खोल दिया जाएगा. ताज के दीदार की तमन्ना लिए सैलानियों के लिए तो ये खुशी की बात है ही, उन तमाम लोगों के चेहरे पर भी रौनक आ गई है जिनकी रोजी-रोटी का सहारा ही ताजमहल है. हालांकि इस दौरान कुछ नियमों का पालन जरूरी होगा. 

पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोग खुश 
ताजमहल के खुलने से पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोग काफी खुश हैं. ताजमहल के बन्द हो जाने से इस व्यवसाय से जुड़े लोग बेरोजगारी की कगार पर आ गए थे. ऐसे में लोगों का कहना है कि वे ताजमहल खुलने की खबर का स्वागत करते हैं. ताजमहल के बंद होने से गाइड, दुकानदार, रिक्शा चालक, होटल्स, सब पर फर्क पड़ा था. अब ताज खुलने से फिर से लोगो को रोजगार मिल सकेगा. 

ताजमहल के साथ-साथ ये स्मारक भी खुल जाएंगे 
ताज महल के साथ-साथ लाल किला और कुतुब मीनार सहित देश के महत्वपूर्ण स्मारक 6 जुलाई से खुल जाएंगे. संस्कृति मंत्रालय के मुताबिक भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) द्वारा संरक्षित सभी स्मारक 6 जुलाई से जनता के लिए फिर खुल जाएंगे. इससे पहले जून में संस्कृति मंत्रालय ने एएसआई के रख-रखाव वाले 3,000 से अधिक स्मारकों में से 820 को फिर खोल दिया था, जहां धार्मिक समारोह होते हैं. कोरोना वायरस संकट के मद्देनजर 17 मार्च से केंद्र सरकार द्वारा संरक्षित 3,691 स्मारक और पुरातत्व स्थल बंद थे, जिनकी देखभाल एएसआई करता है.

वाराणसी: लॉकडाउन का उल्लंघन किया, पुलिस ने टोका नेताजी ने शुरू कर दी मारपीट 

विजिटर्स के लिए ये होंगे नियम 
स्मारकों में प्रवेश के लिए इलेक्ट्रॉनिक तरीके से ही टिकट जारी किए जाएंगे. स्मारकों की पार्किंग और कैंटीन में केवल डिजिटल भुगतान किया जा सकेगा. मंत्रालय की ओर से जारी मानक संचालन प्रक्रिया (SoP) के मुताबिक चुनिंदा स्मारकों में पर्यटकों की संख्या की एक सीमा तय होगी. पर्यटक सामाजिक दूरी के नियम का पालन करेंगे. नियम के मुताबिक प्रवेश द्वार पर हाथ धोने या सैनिटाइज करने और थर्मल स्कैनिंग की अनिवार्य व्यवस्था होगी. आगरा के ताज महल में एक स्लॉट में 2500 पर्यटक जा सकेंगे.

watch live tv