close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राम मंदिर पर फैसले से पहले मथुरा में अलर्ट, चप्पे-चप्पे पर है खूफिया विभाग की नजर

राम मंदिर मामले पर सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) के आने वाले फैसले को लेकर पुलिस प्रशासन हाई अलर्ट पर है. चप्पे-चप्पे पर खूफिया विभाग की टीमें नजर बनाए हुए हैं.

राम मंदिर पर फैसले से पहले मथुरा में अलर्ट, चप्पे-चप्पे पर है खूफिया विभाग की नजर

मथुराः राम मंदिर मामले पर सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) के आने वाले फैसले को लेकर पुलिस प्रशासन हाई अलर्ट पर है. चप्पे-चप्पे पर खूफिया विभाग की टीमें नजर बनाए हुए हैं. वहीं पुलिस प्रशासन के अधिकारी सभी गतिविधियों पर अपनी निगाहें जमाए हुए हैं. अयोध्या (Ayodhya) के फैसले के चलते वाराणसी और मथुरा में सुरक्षा व्यवस्था हाई अलर्ट पर है. पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों ने 2 दिन पहले ब्रज के साधु-संतों के साथ बैठक कर सभी लोगों से शांति व्यवस्था बनाए रखने में सहयोग की अपील की थी.

एसएसपी और डीएम ने ब्रिज के सभी संतो से न्यायालय के फैसले का स्वागत करते हुए पुलिस प्रशासन के कार्य में वादा उत्पन्न ना करने और शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए सभी से सहयोग की मांग की थी. अब इसके बाद एसएसपी शलभ माथुर ने पुलिस लाइन सभागार में जनपद के सभी थाना प्रभारी चौकी प्रभारी क्षेत्राधिकारी और एडिशनल एसपी के साथ बैठक की.

देखें VIDEO

राम मंदिर को लेकर BJP सांसद साक्षी महाराज बोले, '6 दिसंबर से शुरू होगा निर्माण'

एसएसपी ने सभी थाना प्रभारी और एडिशनल एसपी तक के सभी अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्रों में सघन चेकिंग अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं. इसके साथ ही पीस कमेटी की बैठक और लोगों में पुलिस के प्रति भरोसा कायम करने के लिए जनता से टच में रहने को कहा गया है. एसएसपी ने सभी अधीनस्थ अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह अपने क्षेत्रों में हर गतिविधि पर नजर रखें.

'धोखेबाज' हैं UP पुलिस के हथियार, बंदूकें हुईं जाम, सिपाही पेंचकस से निकलते रहे गोलियां

इस दौरान एलआईयू की टीमें भी सभी थाना क्षेत्रों में सक्रिय रहेंगी इस दौरान मौजूद रहे. मजिस्ट्रेट अधिकारियों को भी पुलिसकर्मियों के साथ जनपद में भ्रमण सील रहने के निर्देश जिलाधिकारी द्वारा दिए गए हैं. बता दें राम मंदिर पर आने वाले फैसले को लेकर सिर्फ अयोध्या ही नहीं, प्रदेश सहित देश भर के धार्मिक स्थलों में अलर्ट जारी कर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाए जाने के निर्देश जारी कर दिए गए हैं.