close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

उत्तराखंड में अब घर बनाने को लेकर रिसर्च की जरूरत हैः सीएम त्रिवेंद्र सिंह

'लोग नदी किनारे घर बनाते हैं और बारिश में इन क्षेत्रों में ही काफी नुकसान होता है. लोगों को सचेत होना होगा. अब भूवैज्ञानिक इस दिशा में रिसर्च करेंगे कि आखिर इस आपदा में इतना नुकसान क्यों हुआ.'

उत्तराखंड में अब घर बनाने को लेकर रिसर्च की जरूरत हैः सीएम त्रिवेंद्र सिंह

देहरादूनः मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने राज्य में बाढ़ से मची तबाही पर कहा कि उत्तराखंड में अब घर बनाने को लेकर रिसर्च या अध्ययन की जरूरत है. उत्तरकाशी में आपदा प्रभावित लोगों से मिलने के लिए देहरादून से रवाना होने से पहले ज़ी मीडिया से बातचीत के दौरान सीएम रावत ने कहा, 'लोगों तक राहत पहुंचाने का काम जारी है राज्य में बाढ़ से अभी तक 17 लोगों की मौत हुई है. इनमे से 11 के शव बरामद किए जा चुके हैं. उत्तराखंड में अब घर बनाने को लेकर रिसर्च या अध्ययन की जरूरत है.'

सीएम ने कहा, 'लोग नदी किनारे घर बनाते हैं और बारिश में इन क्षेत्रों में ही काफी नुकसान होता है. लोगों को सचेत होना होगा. अब भूवैज्ञानिक इस दिशा में रिसर्च करेंगे कि आखिर इस आपदा में इतना नुकसान क्यों हुआ. नदी की ज़मीन पर मकान या दुकान न बने इसको लेकर कानून बना हुआ है. लेकिन जागरूक होने की जरूरत है.'य

यह भी पढ़ेंः VIDEO: चमोली में पानी का तांडव, देखते-देखते यूं धराशाई हो गई तीन मंजिला इमारत

उन्होंने कहा, 'आम तौर पर बादल एक समय मे एक ही स्थान पर फटता है. लेकिन इस बार अलग अलग स्थानों पर कई बादल फ़टे हैं. इसके लिए भी अध्ययन किया जाना है. उत्तराखंड सरकार हिमाचल सरकार के साथ सम्पर्क में है. ये हादसा दोनों राज्यों की सीमा पर हुआ है.'

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से भी मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की बातचीत हुई है. सीएम रावत ने कहा, 'केंद्र ने मदद का पूरा भरोसा दिया है. जरूरत पड़ने पर सेना के हेलीकॉप्टर भी मदद कर रहे हैं.'