close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गंगा नहाने गये इंजीनियरिंग के 3 छात्रों की डूबकर मौत

गंगा नदी में नहाने गये एक निजी इंजीनियरिंग कालेज में बीटेक के तीन छात्रों की रविवार को नदी में डूबने से मौत हो गयी। तीनों की आयु 19 से 21 वर्ष के बीच थी। गोताखोरों ने तीन घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद शवों को नदी से निकाला।

गंगा नहाने गये इंजीनियरिंग के 3 छात्रों की डूबकर मौत

कानपुर : गंगा नदी में नहाने गये एक निजी इंजीनियरिंग कालेज में बीटेक के तीन छात्रों की रविवार को नदी में डूबने से मौत हो गयी। तीनों की आयु 19 से 21 वर्ष के बीच थी। गोताखोरों ने तीन घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद शवों को नदी से निकाला।

कानपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शलभ माथुर ने बताया कल्याणपुर के निजी इंजीनियरिंग कालेज अंबेडकर इंजीनियरिंग इंस्टीटयूट के छात्रावास में रहने वाले बीटेक के तीन छात्र गंगास्नान के लिए गंगा बैराज पर गये। नहाते-नहाते वे गंगा की गहराई में समाने लगे। डूबने की स्थिति में तीनों ने मदद के लिए आवाज लगायी। इनकी आवाज सुनकर वहां मौजूद गोताखोर गंगा में कूद पड़े। लेकिन तमाम कोशिशों के बाद में भी छात्रों को बचाया नहीं जा सका।

तीन घंटे बाद गोताखोरों ने उन्हें नदी से निकाला। पुलिस उन्हें मेडिकल कॉलेज ले गयी जहां डाक्टरों ने तीनों को मृत घोषित कर दिया।

इन छात्रों में मथुरा के शुभम जैन और हरदोई के रहने वाले शौर्य शर्मा बीटेक बायोटेक फर्स्ट इयर के छात्र थे। जबकि कन्नौज निवासी अंशुल पाल बीटेक फर्स्ट इयर इलेक्ट्रानिक्स के छात्र थे। तीनों कॉलेज छात्रावास में साथ रहते थे और आज रविवार की छुटटी होने के कारण पिकनिक मनाने गंगा बैराज गये थे।

पुलिस ने इन तीनों के माता-पिता को सूचित कर दिया और देर शाम वह शहर पहुंच गये। तीनो छात्रों के शव पोस्टमार्टम के लिये भेज दिये गये हैं। पुलिस मामले की जांच कर रही है।