TikTok का शटर डाउन हुआ तो इसके स्टार एक्टर्स ढूंढ रहे हैं Options...

आगरा के रहने वाले विनी के TikTok app पर 1.8 मिलियन फॉलोअर थे. App बंद होने के बाद फॉलोअर्स अब धीरे-धीरे Instagram पर शिफ्ट होते जा रहे हैं. चीन के 59 app देशभर में प्रतिबंधित कर दिए गए हैं.चाइनीज app ने जिस तरह लोगों का डेटा उड़ाने का काम किया था, उसके बाद हर कोई इससे किनारा ही करता नजर आया.

TikTok का शटर डाउन हुआ तो इसके स्टार एक्टर्स ढूंढ रहे हैं Options...
प्रतीकात्मक फोटो

आगरा: भारत और चीन के बीच तनाव को देखते हुए भारत सरकार ने चाइनीज ऐप्लिकेशंस की एक लिस्ट तैयार करके 59 chinese app प्रतिबंधित कर दिए. इनमें से एक वो chinese app भी था, जिसने देश में कई टीनएजर्स को रातोंरात स्टार बना दिया था. ऐसे में भारत सरकार द्वारा चीन के 59 ऐप प्रतिबंधित किए जाने के बाद बहुत सारे ऐसे लोग हैं, जिनका रोजगार खत्म हो गया. हालांकि अब वो नए विकल्प तलाशने लगे हैं. 

1.8 मिलियन फॉलोअर्स को Instagram पर शिफ्ट कर रहे हैं विनी 
आगरा के रहने वाले विनी के TikTok app पर 1.8 मिलियन फॉलोअर थे. App बंद होने के बाद फॉलोअर्स अब धीरे-धीरे Instagram पर शिफ्ट होते जा रहे हैं. चीन के 59 app देशभर में प्रतिबंधित कर दिए गए हैं बता दें कि इनमें बहुत से ऐसे app हैं जिनसे लाखों फॉलोअर्स जुड़े हुए थे विनी की ही तरह देश में कई एक्टर थे, जिनके TikTok पर फॉलोअर्स थे. लेकिन चाइनीज app ने जिस तरह लोगों का डेटा उड़ाने का काम किया था, उसके बाद हर कोई इससे किनारा ही करता नजर आया.
अब TikTok जैसे देसी application की भी डिमांड बढ़ रही है, ताकि लोग अपने स्किल्स दिखाते रहें लेकिन फायदा चीन को न पहुंचे. कई ऐप्लिकेशन मार्केट में दिखाई भी देने लगे हैं, जो जल्दी ही TikTok की जगह ले लेंगे. 

इसे भी देखिए: Chinese खिलौनों की कमर तोड़ेगा UP का टॉय क्लस्टर, ग्रेटर नोएडा में होगी देश की पहली International Toy City  

आपके फोन से गया TikTok, चीन में हाहाकार
चीन के लोग इस बात से परेशान हैं कि भारत के फैसले से चीन में बेरोजगारी बढ़ेगी. दुनिया के कई देशों में भारत के लिए गए फैसले की तारीफ हो रही है. अमेरिका, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और यूरोप के कई देशों में चीन की कंपनी और चाइनीज ऐप पर भारत की तरह बैन लगाने की आवाज उठी है. भारत के सोशल मीडिया पर लोग Huawei और  ZTE नाम की चाइनीज कंपनी पर भी बैन लगाने की मांग कर रहे हैं. इंटरनेशनल मीडिया भी भारत के फैसले की तारीफ कर रहा है.  

WATCH LIVE TV