उत्तराखंड: सरकारी अस्पतालों में एक जनवरी से इलाज होगा महंगा, यहां पढ़िए नए फीस की पूरी लिस्ट

10 फीसदी यूजर चार्ज में वृद्धि होने के चलते सरकारी अस्पतालों में 1 जनवरी से इलाज महंगा हो जाएगा.

उत्तराखंड: सरकारी अस्पतालों में एक जनवरी से इलाज होगा महंगा, यहां पढ़िए नए फीस की पूरी लिस्ट
दून हॉस्पिटल के एमएस डॉ केके टम्टा ने बताया कि फिलहाल मेडिकल कॉलेज के अस्पतालों में सेवाएं महंगी नहीं होंगी. बाकी सभी अस्पतालों में सेवाएं महंगी होने जा रही हैं.

देहरादून: नए साल की शुरुआत होते ही उत्तराखंड (Uttarakhand) के सरकारी अस्पतालों में इलाज भी महंगा हो जाएगा. 10 फीसदी यूजर चार्ज में वृद्धि होने के चलते सरकारी अस्पतालों में 1 जनवरी से इलाज महंगा हो जाएगा.

दरअसल, हर साल सरकार 1 जनवरी से यूजर चार्ज में 10 फीसदी की वृद्धि करती है. जिससे ओपीडी के रजिस्ट्रेशन से लेकर मेडिकल की जांच तक सभी सेवाएं महंगी हो जाती हैं. खासतौर से सरकारी अस्पतालों में मेडिकल की जांच में ब्लड जांच, एक्स-रे ,ईसीजी जैसी सेवाएं शामिल हैं. जो 1 जनवरी से महंगी होने जा रही हैं.

कोरोनेशन और गांधी शताब्दी अस्पताल में 1 जनवरी से ओपीडी में जांच कराने के लिए रजिस्ट्रेशन का पर्चा 17 रुपये के बजाय 25 रुपये में बनेगा. वहीं, अल्ट्रासाउंड के लिए 518 और एक्स रे के लिए लगभग 200 रुपये देने होंगे.

इलाज कराने आ रहे लोगों का कहना है कि सरकारी अस्पतालों में आर्थिक रूप से कमजोर तबके के ही लोग इलाज कराने आते हैं, ऐसे में सरकार को इलाज मंहगा नहीं करना चाहिए. लोगों ने कहा कि सरकार को ऐसी कोशिशें करनी चाहिए, जिससे सरकारी अस्पतालों में इलाज महंगा ना हो.

उधर, दून हॉस्पिटल के एमएस डॉ केके टम्टा ने बताया कि फिलहाल मेडिकल कॉलेज के अस्पतालों में सेवाएं महंगी नहीं होंगी. बाकी सभी अस्पतालों में सेवाएं महंगी होने जा रही हैं.