Alert!: लड्डू ने इतनों को पहुंचा दिया हॉस्पिटल, यहां जानें गर्मी में फूड पॉइजनिंग से किस तरह बचें

जिस किसी ने भी लड्डू खाए उसके पेट में दर्द हुआ और देखते ही देखते 2 दर्जन से ज्यादा लोग बीमार हो गए, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा.

Alert!: लड्डू ने इतनों को पहुंचा दिया हॉस्पिटल, यहां जानें गर्मी में फूड पॉइजनिंग से किस तरह बचें
प्रतीकात्मक तस्वीर

गोंडाः गर्मी का मौसम आते ही फूड पॉइजनिंग और खाना खराब होने की शिकायत सामने आने लग जाती है. ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले से सामने आया. जहां एक कार्यक्रम में शामिल हुए 2 दर्जन से अधिक लोग फूड पॉइजनिंग का शिकार होकर अस्पताल पहुंच गए. जिनका गोंडा जिला अस्पताल में इस वक्त इलाज चल रहा है. ऐसे में जरूरी है, आप जानें कि गर्मी के मौसम में फूड पॉइजनिंग से कैसे बचें.

ये है मामला
मामला गोंडा के कोतवाली नगर क्षेत्र के राजेंद्र नगर मोहल्ले से सामने आया. अस्पताल में भर्ती एक पीड़ित ने बताया कि नातिन के जन्म पर वह कार्यक्रम में शामिल होने गए थे. कार्यक्रम के अवसर पर सभी मेहमानों को लड्डू बांटे गए. लेकिन जिसने भी लड्डू खाया उसके पेट में दर्द हुआ और देखते ही देखते 2 दर्जन से ज्यादा लोग बीमार हो गए, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा.

यह भी पढ़ेंः- घोर लापरवाही: कोरोना संक्रमित को रस्सी से घेरकर पेट्रोल पंप पर ही कर दिया आइसोलेट

आरोपी को भेज दिया जेल
मामले पर गोंडा पुलिस अधीक्षक संतोष मिश्र ने बताया कि फूड पॉइजनिंग से एक पूरा परिवार प्रभावित हुआ है, जिनका इलाज जारी है. परिजनों की तहरीर पर जिस दुकान से मिठाई मंगवाई गई थी, उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर आरोपी को जेल भेज दिया है. उन्होंने साथ ही कहा कि क्षेत्र में जो भी इस तरह की गतिविधि करते पाया जाएगा उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

इस तरह बचें फूड पॉइजनिंग से
फूड पॉइजनिंग खराब भोजन खाने से होती है, ऐसे में जरूरी है कि आप अपने भोजन को खराब होने से बचाए रखें. इन उपायों से भोजन खराब नहीं होगा.

  • भोजन को सुरक्षित रखें और ताजा भोजन करने की ही कोशिश करें.
  • किचन में सफाई का ध्यान रखें और खाने की जगह भी साफ-सुथरी रखें.
  • पके भोजन को कच्चे फल, सब्जियों या कच्चे भोजन के पास न रखें.
  • नमी वाले स्थानों पर भोजन न रखें, बर्तनों को भी पूरी तरह साफ रखें.
  • अपने हाथों को बार-बार साफ करते रहें.
  • इस मौसम में पके हुए भोजन को बार-बार गर्म करके खाने से बचें.
  • पालतू जानवरों को भी खाने वाली जगह से दूर रखें.
  • बासी भोजन न खाएं, ताजा भोजन करने का ही प्रयास करें.
  • फ्रिज का उपयोग करें और खाना ढककर ही रखें.
  • गूंथा हुआ आटा बचने पर उसे फ्रिज में रखें और 24 घंटे के अंदर ही इस्तेमाल भी कर लें.  

डिस्क्लेमरः यह एक सामान्य जानकारी है, गंभीर बीमारी से जूझ रहे मरीज सावधानीपूर्वक इन उपायों का प्रयोग करें.

यह भी पढ़ेंः- गर्मियों में मिलता है कीड़े जैसा फल, खाने से नहीं लगेगी लू और होंगे फायदे ही फायदे

WATCH LIVE TV