नोएडा को स्मार्ट सिटी कैटेगरी में दो अवॉर्ड, शहरी विकास मंत्रालय जल्द करेगा सम्मानित

रितु माहेश्वरी के मुताबिक नोएडा को साफ और सुंदर बनाने के लिए काफी मेहनत की गई है और इसी का नतीजा है कि नोएडा स्मार्ट सिटी कैटेगिरी में ये खिताब पाने में कामयाब हुआ है.  

नोएडा को स्मार्ट सिटी कैटेगरी में दो अवॉर्ड, शहरी विकास मंत्रालय जल्द करेगा सम्मानित
फाइल फोटो

नोएडा: केंद्र सरकार की स्मार्ट सिटी बनाने की महत्वाकांक्षी योजना में शानदार प्रदर्शन के लिए स्मार्ट सिटी कैटेगिरी में नोएडा को केंद्र सरकार की ओर दो पुरस्कार देने का ऐलान हुआ है. इनमें पहली कैटेगिरी सैनिटेशन है जबकि दूसरी कैटेगिरी एन्वॉयरमेंट की है. दोनों कैटेगिरी में नोएडा को स्मार्ट सिटी एम्पॉवरिंग इंडिया अवॉर्ड दिया गया है. जल्द की केंद्र सरकार का शहरी विकास मंत्रालय एक सम्मान समारोह आयोजित करने जा रहा है. स्मार्ट सिटी इंडिया एम्पॉवरिंग अवॉर्ड फंक्शन नाम का ये समारोह शुक्रवार को होगा जिसमें केंद्र सरकार के शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पूरी से नोएडा अथॉरिटी की CEO रितु माहेश्वरी अवॉर्ड हासिल करेंगी.

पुरस्कार की घोषणा होने से रितु माहेश्वरी काफी उत्साहित हैं. रितु माहेश्वरी के मुताबिक नोएडा को साफ और सुंदर बनाने के लिए काफी मेहनत की गई है और इसी का नतीजा है कि नोएडा स्मार्ट सिटी कैटेगिरी में ये खिताब पाने में कामयाब हुआ है.

बता दें कि नोएडा अथॉरिटी इस वक्त शहर को संवारने और सजाने पर काफी ध्यान दे रही है, जिसके लिए एक विस्तृत योजना बनाई गई है. इस योजना के तहत शहरी जिंदगी को खूबसूरत और आम लोगों की सहूलियत के लिए कुछ अहम बिंदुओं पर खास तौर से ध्यान दिया जा रहा है. इस लिहाज से शहर की स्वच्छता और सुंदरता को बढ़ाना नोएडा अथॉरिटी का पहला लक्ष्य है. इसके लिए सीईओ के स्तर पर योजनाओं पर ध्यान दिया जा रहा है जिसके कार्यान्वयन में नोएडा अथॉरिटी के अफसर दिन रात जुटे हुए हैं.

एक एनजीओ द्वारा कराए गए सर्वे के मुताबिक नोएडा अथॉरिटी के काम को आम लोगों से भी सराहना मिल रही है.  स्वच्छता के श्रेणी में नोएडा को अथॉरिटी द्वारा शहरी कूड़े के निस्तारण के लिए आधुनिक तरीका अपनाने और कूड़े को रीसाइकिल कर उसे फिर से इस्तेमाल में लाने और वेस्ट लैंड को वेट लैंड में बदलने के लिए अवार्ड मिला है. एन्वॉयरमेंट कैटेगिरी में नोएडा को ये खिताब ऊर्जा के उपयोग को घटाने के लिए सभी स्ट्रीट लाइट्स को LED में बदलने के लिए दिया गया है. इसमें 74 हजार स्ट्रीट लाइट पर काम किया गया. नोएडा अथॉरिटी की CEO रितु माहेश्वरी ने बताया कि आने वाले दिनों में अथॉरिटी लाइटिंग के माध्यम से पूरे शहर की सुंदरता बढ़ाने की दिशा में काम करने जा रही है.