समाजवादी पार्टी का आरोप- BJP ने मुस्लमानों को डराने के लिए आजम खान को भेजा जेल

बीजेपी को आड़े हाथ लेते हुए राम गोविंद चौधरी ने कहा कि ना तो आजम खान और ना ही मुसलमान सरकार द्वारा किए जा रहे उत्पीड़न से डरने वाला है.  

समाजवादी पार्टी का आरोप- BJP ने मुस्लमानों को डराने के लिए आजम खान को भेजा जेल

लखनऊ: कानूनी कार्रवाई झेल रहे सपा के कद्दावर नेता आजम खान की गिरफ्तारी को समाजवादी पार्टी ने साम्प्रदायिक रंग देने की कोशिश की है. रामगोविंद चौधरी के मुताबिक मुसलमानों को डराने के लिए आजम खान को जेल भेजा गया है. चौधरी के मुताबिक बीजेपी तमाम कोशिशों के बावजूद आजम खान के क्षेत्र में हारी, उपचुनाव में भी पराजित हुई, इसलिए बदले की भावना से आजम खान और उनके परिवार को जेल में डाला गया. उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार ने डराने के लिए शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे मुसलमानों पर गोलियां बरसाईं, सैकड़ों को जेल भेजा, कानून को अपमानित कर पोस्टरबाजी की.

ये भी पढ़ें: अखिलेश यादव का अजीब तर्क, कहा- हाथ देखने वाले ने बताया है, 2022 में 351 सीटें जीतेंगे

मुसलमानों को डरा रही सरकार: राम गोविंद चौधरी
मंगलवार को आजम खान से मिलने सीतापुर जेल पहुंच रहे समाजवादी पार्टी के सीनियर नेता राम गोविंद चौधरी का कहना है कि आजम और उनके परिवार को जेल में बंद कर सरकार मुसलमानों को डरा रही है. सरकार ऐसे दिखाना चाहती है कि अगर बीजेपी के खिलाफ वोट दिया तो उनकी हालात भी आजम के परिवार जैसी होगी. बीजेपी को आड़े हाथ लेते हुए राम गोविंद चौधरी ने कहा कि ना तो आजम खान और ना ही मुसलमान सरकार द्वारा किए जा रहे उत्पीड़न से डरने वाला है.

''आजम खान का होना चाहिए सम्मान''
बीजेपी पर निशाना साधते हुए नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर के जौहर विश्वविद्यालय को बनाने के लिए आजम खान का सम्मान करना चाहिए, लेकिन सरकार ने उन्हें जेल में डालकर शिक्षा और लोकतंत्र का अपमान किया है.

चौधरी ने दावा किया कि 2022 में बीजेपी सरकार की वापसी नहीं होने वाली है. सूबे का हर व्यक्ति लोकतंत्र में विश्वास रखता है, शिक्षा के उत्थान में विश्वास रखता है, जो किसान, मजलूम, दलि अल्पसंख्यकों के हित की बात करता है वो इस प्रदेश की अमानवीय सरकार के रवैये के खिलाफ है.

लाइव टीवी देखें: