शरद पवार की NCP भी उतर सकती है UP विधानसभा चुनाव में, सपा के साथ गठबंधन का बनाया मन

नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी के महासचिव केके शर्मा ने कहा है कि उनकी पार्टी उत्तर प्रदेश में भी चुनाव लड़ने वाली है और कई मुद्दों पर पार्टी आवाज उठाएगी. 

शरद पवार की NCP भी उतर सकती है UP विधानसभा चुनाव में, सपा के साथ गठबंधन का बनाया मन

लखनऊ: साल 2022 की शुरुआत में ही उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. इसके लिए सभी राजनीतिक पार्टियों ने तैयारी तेज कर दी है. इसी बीच यूपी राजनीति से जुड़ी एक बड़ी खबर हमारे सामने आ रही है. महाराष्ट्र की सत्ता में शामिल पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद पवार की नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी अब उत्तर प्रदेश में भी जमीन ढूंढने की कोशिश करने वाली है. माना जा रहा है कि NCP इस बार अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी के साथ गंठबंधन का कर यूपी विधानसभा चुनाव में उतर सकती है.

यूपी में 31 जुलाई को खत्म हो जाएंगे सदियों पुराने 48 कानून, सरकार की तैयारी तेज

अखिलेश यादव और शरद पवार ने की फोन पर बात
दरअसल, एक बड़े न्यूज चैनल से बातचीत करते हुए नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी के महासचिव केके शर्मा ने कहा है कि उनकी पार्टी उत्तर प्रदेश में भी चुनाव लड़ने वाली है और कई मुद्दों पर पार्टी आवाज उठाएगी. केके शर्मा ने न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि महाराष्ट्र की तरह यूपी में भी वह विपक्ष के मुख्य दल को सपोर्ट करेंगे और बीजेपी को हराने की कोशिश करेंगे. उन्होंने कहा कि समान विचारधारा वाली पार्टी का ही हाथ थामा जाएगा. हालांकि, सीटों और उनकी की संख्या को लेकर अभी तक कोई बात नहीं हुई है. लेकिन शरद पवार और अखिलेश यादव ने एक दूसरे से फोन पर बात कर ली है.

बीजेपी को बताया खतरा
केके शर्मा ने इंटर्व्यू में भाजपा पर भी सीधा निशाना साधा. उनका कहना है कि बीजेपी लोकतंत्र के लिए एक खतरा साबित हो रही है. जनता की आवाज दबाई जा रही है. केके शर्मा ने कहा है कि शरद पवार यूपी को यह संदेश भेजना चाहते हैं कि यहां की जितनी भी जनता रोजगार न मिल पाने और अन्य बड़ी तकलीफों से जूझ रही है, उनपर एनसीपी काम करेगी.

सपा राज में राज्यमंत्री रहे मोहम्मद इकबाल और पिता की 2.5 अरब की संपत्ति जब्त, 10 करोड़ की सिर्फ गाड़ियां

छोटे दलों के साथ गठबंधन करना चाहते हैं अखिलेश
आपको याद हो, कुछ समय पहले सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मीडिया में बयान दिया था कि सपा इस बार बड़े दलों का सपोर्ट नहीं, बल्कि छोटे दलों के साथ गठबंधन करना चाहती है. ऐसे में माना जा रहा है कि सपा और एनसीपी का गठबंधन एक बड़ी खबर होगी.

WATCH LIVE TV

*******************