अहमदाबाद से लखनऊ पहुंची रेमडेसिविर की 25,000 डोज, CM योगी ने लाने भेजा था स्टेट प्लेन

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर बुधवार को गुजरात से रेमडेसिविर इंजेक्शन की 25,000 डोज मंगाई गई.

अहमदाबाद से लखनऊ पहुंची रेमडेसिविर की 25,000 डोज, CM योगी ने लाने भेजा था स्टेट प्लेन
सांकेतिक तस्वीर.

लखनऊ: ऐसे कोरोना संक्रमितों मरीज जिन्हें अस्पताल में दाखिल कराना पड़ रहा है उनके लिए  रेमडेसिविर इंजेक्शन की जरूरत पड़ रही है. कई राज्य इस इंजेक्शन की कमी से जूझ रहे हैं, कारण कि कंपनियों ने जनवरी से मार्च तक कोरोना संक्रमण घटने पर रेमडेसिविर इंजेक्शन का उत्पादन भी सीमित कर दिया था. अब अचानक आई कोरोना की दूसरी लहर ने इस जीवन रक्षक इंजेक्शन की मांग कई गुना बढ़ा दी है.

अस्पताल में भ्रष्टाचार! योजना का पैसा हड़पने के लिए बनाए फर्जी मरीज, हुआ फर्जी इलाज!

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर बुधवार को गुजरात से रेमडेसिविर इंजेक्शन की 25,000 डोज मंगाई गई. अहमदाबाद से रेमडेसिविर इंजेक्शन लखनऊ लाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने  राजकीय विमान भेजा था. इससे पहले मुख्यमंत्री ने रेमडेसिविर समेत कुल 8 दवाओं की प्रदेश में उपलब्धता हर हाल में सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए.

रितेश पांडे के नए गाने "कवना चक्कर में फंसनी" ने इंटरनेट पर उड़ाया गर्दा, आपने देखा क्या?

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के इलाज में काम आने वाली रेमडेसिविर, आइवरमैक्टिन, पैरासिटामॉल, डाक्सिसाईक्लिन, एजिथ्रोमाइसिन, विटामिन-सी, जिंक टैबलेट, विटामिन बी कॉम्पलेक्स और विटामिन डी 3 की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए. मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद स्वास्थ्य विभाग के अफसर हर जिले में दवाओं की उपलब्धता की जानकारी एकत्र कर रहे हैं. 

वाराणसी जानें की सोच रहे हैं तो वहां के कमिश्नर और DM की यह सलाह जरूर पढ़ लें

मुख्यमंत्री ने दवा विक्रेता संगठन के पदाधिकारियों से वार्ता कर दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के भी निर्देश दिए हैं. उत्तर प्रदेश के ड्रग कंट्रोलर डॉ. एके जैन ने बताया कि देश में सात भारतीय कंपनियां मेसर्स गिलीड साइंसेज अमेरिका के साथ स्वैच्छिक लाइसेंसिंग समझौते के तहत रेमडेसिविर इंजेक्शन का उत्पादन कर रही हैं. स्वास्थ्य विभाग ने इन कंपनियों से संपर्क कर प्रदेश को ज्यादा से ज्यादा यह इंजेक्शन उपलब्ध कराने को कहा है. 

WATCH LIVE TV