टिड्डियों से परेशान किसानों के लिए अच्छी खबर, अब हेलीकॉप्टर से होगी 'एयर स्ट्राइक'

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किसानों को आश्वस्त किया कि सरकार हर वो प्रयास करेगी जिससे टिड्डियां फसलों को कम नुकसान पहुंचा सकें.

टिड्डियों से परेशान किसानों के लिए अच्छी खबर, अब हेलीकॉप्टर से होगी 'एयर स्ट्राइक'
टिड्डी नियंत्रण के लिए हेलीकॉप्टर को हरी झंडी दिखाते केंद्रीय कृषि मंत्री.

ग्रेटर नोएडा: देश में तेजी से बढ़ रहे टिड्डी दल के आंतक को रोकने के लिए अब उन पर हेलीकॉप्टर से अटैक किया जाएगा. टिड्डी दल से परेशान किसानों को राहत देने के लिए केंद्र सरकार ने हेलीकॉप्टर सर्विस की शुरुआत की है. मंगलवार को केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने टिड्डियों पर दवाओं का छिड़काव करने वाले हेलीकॉप्टर को ग्रेटर नोएडा हेलीपैड से हरी झंड़ी दिखाई. ये हेलीकॉप्टर ग्रेटर नोएडा से राजस्थान के बाड़मेर के लिए रवाना किया गया.

हेलीकॉप्टर से कीटनाशक का होगा छिड़काव
खड़ी फसलों की बर्बादी का सबब बन चुके टिड्डी दल का कई राज्यों में हमला हो चुका है. वहीं, अब भारत में पहली बार टिड्डी नियंत्रण के लिए हेलीकॉप्टर से कीटनाशक का छिड़काव किया जा रहा है. केंद्रीय कृषि मंत्री ने बताया कि सरकार को अंदेशा था कि पिछले साल के मुकाबले टिड्डी दल का हमला इस बार ज्यादा होगा. ऐसे में सरकार ने भी अपनी तैयारियां पूरी रखी थीं. उन्होंने कहा कि टिड्डियों को रोकने के लिए हिंदुस्तान की सरकार ने पहली बार ड्रोन का उपयोग किया और अब हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल करने जा रही है.

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किसानों को आश्वस्त किया कि सरकार हर वो प्रयास करेगी जिससे टिड्डियां फसलों को कम नुकसान पहुंचा सकें. उन्होंने बताया कि किसानों को जागरूक करने के साथ-साथ राज्य सरकारों को भी जरूरी मदद दी गई है. टिड्डी दल की रोकथाम के लिए वक्त के साथ सरकार के पास और ज्यादा संसाधन होंगे.

बता दें कि, भारत में टिड्डियों की घुसपैठ पाकिस्तान की ओर से हुई, इस साल टिड्डियों का पहला हमला राजस्थान में ही हुआ. टिड्डियों के दल ने उत्तर प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान और मध्य प्रदेश में किसानों की फसलों को नुकसान पहुंचाया है.