उन्‍नाव गैंगरेप केस : गवाह यूनुस का बिसरा रखा गया सुरक्षित, शव दोबारा होगा दफन

उन्‍नाव गैंगरेप केस में गवाह युनूस के शव को शनिवार को उसकी कब्र से निकालकर पोस्‍टमार्टम के लिए भेजा गया था.

उन्‍नाव गैंगरेप केस : गवाह यूनुस का बिसरा रखा गया सुरक्षित, शव दोबारा होगा दफन
उन्‍नाव गैंगरेप केस में बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर आरोपी हैं. (फाइल फोटो)

लखनऊ : उन्‍नाव गैंगरेप केस में गवाह युनूस के शव को शनिवार को उसकी कब्र से निकालकर पोस्‍टमार्टम के लिए भेजा गया था. देर रात 2:20 बजे के करीब उसका पोस्‍टमार्टम तीन डॉक्‍टरों के पैैनल ने किया. इसके बाद उसका बिसरा सुरक्षित रख लिया गया और उसके शव को रविवार को दोबारा दफनाने के लिए उसके गांव माखी भेजा गया है. डॉक्टर आशुतोष वाष्णेय के हवाले से कहा गया है कि बिसरा रिपोर्ट के बाद ही मौत के कारणों का सही पता चल सकेगा.

पोस्‍टमार्टम करने वाले डॉक्‍टरों ने जांच के लिए उसका बिसरा तीन जार में रखा गया है. पहले जार में लंग्स (फेफड़ा) के पीस, हार्ट का पीस, ब्रेन का पीस, दूसरे जार में लीवर का पीस गाल ब्लेडर समेत, दोनों किडनी का पीस और तीसरे जार में पेट का पीस, छोटी आंत का पीस रखा गया है.

डॉक्‍टरों ने बिसरे के साथ ही यूनुस की कब्र की मिट्टी भी पांच डिब्‍बों में सुरक्षित रखी है. डॉक्टरों का मानना है कि अगर व्‍यक्ति को जहर देकर मारा गया है तो शव दफनाने के कुछ दिन बाद जहर के कण मिट्टी में आ जाते हैं. इसलिए मिट्टी को भी सुरक्षित कर जांच को भेजा गया है.

डॉक्‍टरों ने यूनुस के डीएनए सैम्पल के रूप में कॉलर बोन का पीस, सीने की हड्डी का पीस और सिर के बाल को सुरक्षित किया गया है. डॉक्टर की मानें तो लीवर अत्यधिक सिकुड़ा मिला है जो बीमारी की ओर इशारा कर रहा है. हालांकि मौत का कारण स्पष्ट न होने से बिसरा सुरक्षित किया गया है.

गौरतलब है कि उन्नाव में भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की कथित संलिप्तता वाले बलात्कार और हत्या के मामले के एक गवाह की 23 अगस्त को कथित तौर पर बीमारी से मौत हो गई थी. यूनुस कथित बलात्कार पीड़िता के पिता को भाजपा विधायक के भाई तथा अन्य लोगों द्वारा बेरहमी से पीटे जाने का गवाह था. पीड़िता के चाचा ने बुधवार को पुलिस से शव का पोस्टमार्टम कराए जाने की मांग की थी. गवाह के भाइयों ने दावा किया था कि पीड़िता के चाचा ने कहा था कि अगर वह पोस्टमार्टम के लिए राजी हो जाएंगे तो उन्हें 10-12 लाख रुपये मिलेंगे.