close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

उन्‍नाव रेप केस: UP के 4 जिलों में 17 जगहों पर CBI की छापेमारी, ट्रक के मालिक ने खोला ये राज

सीबीआई की एक टीम सीतापुर जेल जाकर दूसरे दिन भी कुलदीप सिंह सेंगर से पूछताछ करने का काम कर रही है. 

उन्‍नाव रेप केस: UP के 4 जिलों में 17 जगहों पर CBI की छापेमारी, ट्रक के मालिक ने खोला ये राज
(फाइल फोटो)

लखनऊ: उन्नाव रेप पीड़िता हादसे मामले को आज पूरे 7 दिन हो गए हैं. पिछले रविवार को उन्नाव रेप पीड़िता अपने चाचा से मिलने के लिए रायबरेली जेल एनएच 232 से जा रही थी जहां उनकी कार का ट्रक से एक्सीडेंट हो गया. इस पूरे केस में सुप्रीम कोर्ट की सख्ती के बाद सीबीआई काफी तेजी से काम कर रही है. सीबीआई की आज 6 से ज्यादा टीमें उन्नाव माखी बांदा फतेहपुर और लखनऊ समेत 17 ठिकानों पर छापेमारी और कई लोगों से पूछताछ का काम कर रही है.  

ट्रक के मालिक को भी सीबीआई ने पूछताछ के लिए बुलाया
जिस ट्रक से पीड़िता की कार का एक्सीडेंट हुआ था उस ट्रक के मालिक को आज सीबीआई ने पूछताछ के लिए लखनऊ के सीबीआई दफ्तर बुलाया. कस्टडी में लिए ड्राइवर क्लीनर से भी सीबीआई आज पूछताछ कर रही है ड्राइवर क्लीनर की थ्योरी और जो ट्रक के मालिक हैं उनकी थ्योरी को आपस में मिलाने का काम सीबीआई कर रही है.

ट्रक के मालिक देवेंद्र किशोर पाल जब सीबीआई दफ्तर लखनऊ पहुंचे तो उन्होंने मीडिया से अपना पक्ष रखा. देवेंद्र पाल ने सीधे तौर पर कहा कि वे बेगुनाह है न वह कुलदीप सिंह सेंगर को जानते हैं और न ही उनका पीड़िता से कोई तालुकात है. मालिक ने यह भी कहा कि किसी के द्वारा साजिश किया जा रहा है मुझे फंसाने की. मैंने लोन ना चुकाने के कारण ट्रक को सीजर के हाथों से बचाने के लिए कालिक नंबर प्लेट पर कालिख नंबर प्लेट पर लगाने के लिए कहा था.

सीबीआई क्लीनर ड्राइवर को लेकर जाएगी हादसा वाली जगह
उन्नाव रेप पीड़िता के हादसे मामले में सीबीआई की टीम ट्रक ड्राइवर और क्लीनर को अपने साथ घटना वाले उस जगह पर भी ले जाएगी जहां पर यह पूरा हादसा हुआ था. जो 2 तारीख को सीन रीक्रिएट किए गए थे उनसे उनकी थ्योरी को मैच करवाया जाएगा.

सीबीआई की टीम माखी पहुंचकर विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के कई ठिकाने और क्लीनर और ट्रक के मालिक के घर में भी छापेमारी और पूछताछ का काम की. सीबीआई की एक टीम सीतापुर जेल जाकर दूसरे दिन भी कुलदीप सिंह सेंगर से पूछताछ करने का काम कर रही है. अभी भी यह पूरा मामला हादसे और साजिश में फंसा हुआ है.