close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

उन्नाव रेप केस में सुप्रीम कोर्ट आज करेगा सुनवाई, पहली FIR में जांच भी हुई पूरी

पिछली सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने तीस हजारी कोर्ट के स्पेशल सीबीआई जज (CBI Judge) से पूछा था कि कितने दिन में वो उन्नाव केस में ट्रायल पूरा कर लेंगे.

उन्नाव रेप केस में सुप्रीम कोर्ट आज करेगा सुनवाई, पहली FIR में जांच भी हुई पूरी
(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: उन्नाव रेप केस (Unnao Case) में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) शुक्रवार को सुनवाई करेगा. पिछली सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने तीस हजारी कोर्ट के स्पेशल सीबीआई जज (CBI Judge) से पूछा था कि कितने दिन में वो उन्नाव केस में ट्रायल पूरा कर लेंगे. बीजेपी (BJP) के पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर (Kuldeep Singh Sengar) के साथ आरोपी शशि सिंह ने कोर्ट से कहा कि 45 दिन की समय सीमा बांधने पर कोर्ट विचार करे क्योंकि इससे फेयर ट्रायल नहीं हो पायेगा. कोर्ट ने सीबीआई को निर्देश दिया है कि बुधवार को रिपोर्ट दाखिल करे. जिसके बाद सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट से स्टेट्स रिपोर्ट दाखिल करने के लिए और समय की मांग की थी.

वहीं दूसरी ओर आपको बता दें कि उन्नाव रेप केस (Unnao Rape Case) मामले में पहली एफआईआर ( FIR) की जांच पूरी हो गई. सूत्रों के मुताबिक, सीबीआई (CBI) जल्द लखनऊ सीबीआई कोर्ट में अपनी रिपोर्ट दाखिल करने की तैयारी में है. सीबीआई यह कदम दो दिन पहले एम्स (AIIMS) में भर्ती पीड़िता का बयान दर्ज करने के बाद उठा रही है.

सूत्रों के मुताबिक, मामला पीड़िता को कानपुर के एक घर मे रखकर सामूहिक दुराचार के मामले में हुई एफआईआर का है, जिसमें पीड़िता ने आरोप लगाया था कि उसे एक घर मे रखकर भी उसके साथ सामूहिक दुराचार किया गया था. सामूहिक दुराचार के जिन तीन आरोपियों शुभम सिंह, नरेश तिवारी और बृजेश यादव के खिलाफ सीबीआई ने जांच पूरी कर ली गई है और रिपोर्ट तैयार कर ली गई है.

देखें लाइव टीवी

ये मामला उन्नाव रेप कांड में दर्ज सबसे पहली एफआईआर में नामजद आरोपियों से संबधित है. यह एफआईआर पीड़िता की मां ने 20 जून 2017 को दर्ज कराई थी. इन तीनों को पूर्व में गिरफ्तार किया गया था लेकिन कुछ समय में यह तीनों जमानत पर बाहर आ गए थे. इससे पहले सीबीआई विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और उसकी महिला साथी शशि के खिलाफ आईपीसी की धारा 120 बी, 363, 366, 376 व 506 के तहत आरोपपत्र दाखिल कर चुकी है.

सीबीआई ने दूसरी चार्जशीट पांच आरोपियों (अतुल, विनीत, बउवा, सोनू शशि उर्फ सुमन) के खिलाफ आईपीसी की धारा 34, 147, 148, 149, 323, 504, 506 व 302 के तहत दाखिल की थी. तीसरी चार्जशीट विधायक सेंगर व नौ अन्य के खिलाफ दर्ज की गई थी. इसमें सेंगर के भाई अतुल, तीन पुलिस कर्मी व अन्य के नाम शामिल थे.