close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

यूपी की चकबंदी लेखपाल के 1364 पदों की भर्ती प्रक्रिया निरस्त, ये है कारण

अन्य पिछड़ा वर्ग तथा अनुसूचित जनजाति श्रेणी के एक भी पद का विज्ञापन न निकाले जाने के कारण भर्ती प्रक्रिया निरस्त करने का निर्णय लिया गया है.

यूपी की चकबंदी लेखपाल के 1364 पदों की भर्ती प्रक्रिया निरस्त, ये है कारण
उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने परीक्षा-2019 के संबंध में विज्ञापन जारी किया था.

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश शासन ने चकबन्दी लेखपाल के 1364 सीधी भर्ती के पदों पर भर्ती की प्रक्रिया को तत्काल प्रभाव से निरस्त करने के आदेश दिए हैं. जानकारी के मुताबिक, अन्य पिछड़ा वर्ग तथा अनुसूचित जनजाति श्रेणी के एक भी पद का विज्ञापन न निकाले जाने के कारण भर्ती प्रक्रिया निरस्त करने का निर्णय लिया गया है. शासन ने प्रकरण की जांच कराने का भी आदेश दिया है. 

जानकारी के मुताबिक, प्रमुख सचिव राजस्व रेणुका कुमार ने चकबंदी आयुक्त को भेजें पत्र में पूछा कि अन्य पिछड़ा वर्ग और अनुसूचित जनजाति वर्ग के पदों का विज्ञापन क्यों नहीं किया गया. इसलिए जांच होने तक 
इस भर्ती प्रक्रिया को तत्काल प्रभाव से रोकते हुए और भर्ती के संबंध में पूर्व में जारी विज्ञापन के शीघ्र निरस्तीकरण की कार्रवाई करने को कहा है. साथ ही कार्रवाई से शासन को अवगत कराने का निर्देश दिया है. 

ये था विज्ञापन में विवरण
उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा चकबन्दी लेखपाल (सामान्य चयन) प्रतियोगितात्मक परीक्षा-2019 के संबंध में विज्ञापन संख्या-03-परीक्षा/2019 जारी किया गया. इस विज्ञापन की सारिणी-1 में चकबन्दी लेखपाल की सीधी भर्ती के कुल 1364 पदों में अनारक्षित श्रेणी के 1002 पदों, अनुसूचित जाति श्रेणी के 362 पदों, अनुसूचित जनजाति श्रेणी के शून्य पदों एवं अन्य पिछड़ा वर्ग श्रेणी के शून्य पदों का विवरण अंकित है.