close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी को याद कर बोले सीएम योगी, "कश्मीर में जो हुआ वो अटल जी को सच्ची श्रद्धांजलि"

भारत रत्न एवं पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी की याद में इस कार्यक्रम का आयोजन भारतीय जनता पार्टी उत्तर प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के नेतृत्व में किया गया था. इस कार्यक्रम का आयोजन लखनऊ के लोक भवन में किया गया था.

भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी को याद कर बोले सीएम योगी, "कश्मीर में जो हुआ वो अटल जी को सच्ची श्रद्धांजलि"
भारत रत्न एवं पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को याद करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं अन्य

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में भारत रत्न एवं पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की प्रथम पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि सभा कार्यक्रम का आयोजन किया गया. कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में सीएम योगी आदित्यनाथ मौजूद रहे. आपको बता दें कि अटल बिहारी की याद में इस कार्यक्रम का आयोजन भारतीय जनता पार्टी उत्तर प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के नेतृत्व में किया गया था. कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के तौर पर उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य एवं डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा भी पहुंचे थे. इस कार्यक्रम का आयोजन लखनऊ के लोक भवन में किया गया था.

कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे सीएम योगी ने अपने संबोधन के दौरान कहा, "अटल जी कार्यकर्ताओं के लिए प्रेरणा के स्त्रोत थे. आदमी ना बड़ा होता है, ना छोटा होता है, आदमी सिर्फ आदमी होता है. अटल जी की पहली पुण्य तिथि पर आज उन्हें याद कर रहे हैं. 6 दशकों तक ईमानदारी के साथ आदर्शों की राजनीति अटल जी ने की. अटल बिहारी वाजपेयी अपने नाम के मुताबिक हमेशा अटल रहे. जम्मू-कश्मीर के बारे में अटल जी ने अपनी कविताओं के जरिए भाव प्रकट किए. आज जम्मू-कश्मीर में जो हुआ वो अटल जी को सच्ची श्रद्धांजलि है. अटल बिहारी वाजपेयी की पहली पुण्य तिथि से पहले जम्मू-कश्मीर पर फैसला कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें श्रद्धांजलि दी है."

अटल जी को याद करते हुए सीएम योगी ने आगे कहा, "अटल जी के नाम पर इंटरनेशनल स्टेडियम का नाम, मेडिकल विश्वविद्यालय का निर्माण, बलरामपुर में केजीएमयू का सेटेलाइट सेंटर, लोकभवन में 25 दिसंबर को अटल जी की 25 फीट की प्रतिमा का लोकार्पण किया जाना है." सीएम योगी ने आगे कहा, "श्यामा मुखर्जी जी ने जब एक देश, एक निशान, एक विधान की बात कही थी तो अटल जी भी उस बात पर हमेशा अडिग रहे. मोदी जी ने एक साल के अंदर 370 हटा कर अटल जी को सच्ची श्रंद्धाजलि दी है. आज पहली पुण्यतिथि है, उस पर हम बहुत काम कर रहे हैं. हमने इकाना स्टेडियम का नाम उनके नाम पर किया है. मेडिकल एडुकेशन के लिए हम अटल जी के नाम पर लखनऊ में कर रहे हैं. 25 दिसंबर को जन्मतिथि पर 25 फुट ऊंची प्रतिमा का लोकार्पण होगा. 18 आवासीय विद्यालय श्रमिकों के बच्चों के लिए हम प्रदेश में खोलने जा रहे हैं."

अंत में भारत रत्न एवं पूर्व प्रधानमंत्री को याद करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, "आजादी के लंबे समय तक देश मे लंबे समय तक राजनीतिक शून्यता थी, लेकिन अटल जी ने उस राजनीतिक शून्यता को खत्म किया, और स्थिरता लाए. सत्य कभी पराजित नहीं हो सकता, ऐसी छाप अटल जी ने छोड़ी है."

"आज तुम हंस रहे पर एक दिन आएगा जब बीजेपी 300 पार करेगी"
राज्य के उपमुख्यमंत्री केशव मौर्या ने अटल बिहारी को याद करते हुए कहा, "मैं व्यक्तिगत तौर पर नहीं मानता कि अटल जी हमारे बीच नहीं हैं. वो सशरीर भले न हो, पर वो अपने विचारों से हमारे बीच हैं. अटल जी को कभी अहंकार छू नहीं पाया, वो सबसे उसी प्यार से मिलते थे चाहे भले ही वो पहली बार मिला हो. यहां जो भी लोग हैं सबको अटल जी का सानिध्य मिला. किसी ने काम किया साथ में, किसी ने दुलार पाया. अटल जी ने कहा था कि कांग्रेस के मेरे मित्रों आज तुम हंस रहे पर एक दिन आएगा जब बीजेपी 300 पार करेगी और अब वही हुआ. वो 370 को लेकर भी कहते थे, और ये अब अटल जी के आशीर्वाद के कारण सम्भव हुआ. वो कहते थे- छोटे मन से कोई बड़ा नहीं होता, टूटे मन से कोई खड़ा नहीं होता."

"वो जीते इस नाते हम हार गए और कोई कमी नहीं थी"
उत्तर प्रदेश के विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने पूर्व प्रधानमंत्री को याद करते हुए कहा, "अटल जी के बारे में सैकड़ों संस्मरण सुनाये जा सकते हैं. विदेश नीति, नेता प्रतिपक्ष, बड़े कवि, बड़े पार्लियामेंटेरियन के रूप में अटल जी विख्यात थे. एक अवसर ऐसा था कि लोकसभा में बस 2 सीट थी, तो पत्रकारों ने पूछा कि कैसे हार गए, तो अटल जी ने बोला सीधी सी बात है वो जीते इस नाते हम हार गए और कोई कमी नहीं थी."

सबका आचरण अच्छा होना चाहिए यही हमने अटल जी से सीखा है
बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह इस मौके पर देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की याद में नारे भी लगवाए. उन्होंने ''देश के गौरव अटल बिहारी वाजपेयी -- अमर रहे" नारे लगवाए. इसके साथ ही श्यामा मुखर्जी, दीनदयाल उपाध्याय, सरदार पटेल, भीमराव अंबेडकर के अमर रहे के नारे भी लगवाए गए. स्वतंत्र देव सिंह ने आगे कहा, "सेना के वीरों की शहादत पर सबसे पहले उनके परिवार को पेट्रोल पम्प और गैस एजेंसी दी गई और चेक दी गई. भारतीय जनता पार्टी एक पवित्र संगठन है. जो अटल जी ने सपना देखा था वो अब साकार हो रहा है मोदी अमित शाह के नेतृत्व में. हम सबका आचरण अच्छा होना चाहिए यही हमने अटल जी से सीखा है. सबका सम्मान करिए."