close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

SC के निर्देशानुसार SIT गठित की और चिन्‍मयानंद को गिरफ्तार किया, केस में देरी नहीं हुई: डीजीपी

Swami Chinmayanand: शाहजहांपुर की कोर्ट ने चिन्‍मयानंद को 14 दिन की न्‍यायिक हिरासत में भेज दिया है.

SC के निर्देशानुसार SIT गठित की और चिन्‍मयानंद को गिरफ्तार किया, केस में देरी नहीं हुई: डीजीपी
यूपी के डीजीपी ओपी सिंह ने दिया बयान.

नई दिल्‍ली: लॉ छात्रा द्वारा लगाए गए यौन शोषण के आरोप के बाद यूपी पुलिस ने पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी (BJP) नेता स्वामी चिन्मयानंद (Swami Chinmayanand) को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया है. शाहजहांपुर की कोर्ट ने चिन्‍मयानंद को 14 दिन की न्‍यायिक हिरासत में भेज दिया है.

इस पर यूपी के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ओपी सिंह‍ ने बयान दिया है. ओपी सिंह का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देशानुसार हमने विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया. इसके बाद मामले की जांच करवाई गई और चिन्‍मयानंद को उनके आश्रम से गिरफ्तार किया गया. अब उन्‍हें जेल भेजा जा रहा है. इस मामले में किसी भी तरह की कोई देरी नहीं हुई है.

देखें LIVE TV

यूपी के डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि हमने स्‍वामी चिन्‍मयानंद से जुड़े ब्‍लैकमेलिंग और धन उगाही के मामले में भी तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. बता दें एक छात्रा से दुष्कर्म के आरोपी पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता स्वामी चिन्मयानंद की तबियत बिगड़ने के बाद उन्हें शाहजहांपुर के सरकारी अस्पताल में बुधवार को भर्ती कराया गया था.

चिन्मयानंद (73) का उनके मुमुक्षु आश्रम में डॉक्टरों की एक टीम इलाज कर रही थी, जहां वे 13 सितंबर से नजरबंद थे. सुप्रीम कोर्ट ने इलाहाबाद हाईकोर्ट की दो सदस्यीय विशेष पीठ गठित करवा कर पूरे मामले की जांच के लिए एसआईटी गठित करने का निर्देश दिया था.