UP: अब इमरजेंसी सेवा के लिए 100 की जगह डायल करना होगा 112

सीएम योगी ने इस सेवा का '112 इंडिया ऐप' भी लॉन्च किया. बताया जा रहा है कि अंतर्राष्ट्रीय मापदंडों के साथ इमरजेंसी सेवा में बदलाव किया गया है. 

UP: अब इमरजेंसी सेवा के लिए 100 की जगह डायल करना होगा 112
फोटो साभार- @Uppolice (वीडियो ग्रैब)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में अब इमरजेंसी सेवा के लिए डायल 100 पर नहीं बल्कि 112 पर कॉल करना होगा. लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी ने डायल 112 सेवा का शुभारंभ किया. साथ ही सीएम योगी ने इस सेवा का '112 इंडिया ऐप' भी लॉन्च किया. बताया जा रहा है कि अंतर्राष्ट्रीय मापदंडों के साथ इमरजेंसी सेवा में बदलाव किया गया है. इस दौरान सीएम योगी ने यूपी पुलिस की भी तारीफ की.

इस मौके पर सीएम योगी ने कहा कि नई व्यवस्था में क्षेत्रीय भाषा में पुलिस पीड़ित से बात करेगी. उन्होंने कहा कि देश के सबसे बड़े पर्व दीपावली के पूर्व उत्तर प्रदेश पुलिस की एकीकृत आपात सेवा 112 और वरिष्ठ नागरिक सुरक्षा पहल 'सवेरा' का एक साथ यहां पर शुभारम्भ हो रहा है. अब पुलिस, फायर, एम्बुलेंस की सेवा 112 से मिलेगी. उन्होंने कहा कि नागरिक 112 में रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. 

100, 102, 108 पर मिलने वाली मदद अब एक नंबर 112 से मिलेगी. सीएम योगी ने कहा कि कानून का राज स्थापित करने में पुलिस की बहुत बड़ी भूमिका है. तकनीक का इस्तेमाल कर पुलिस आमजन के नजदीक पहुंची. समय के अनुरूप पुलिस ने कई सुधार किए. मानवीय संवेदना के साथ करना, हम सबका दायित्व है.

लाइव टीवी देखें

सीएम ने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा को लेकर एंटी रोमियो स्क्वॉड, घरेलू हिंसा को लेकर लागू की गई सेवा और 112 सेवा को एक प्लेटफॉर्म पर लाने की कोशिश की जानी चाहिए. 

सीएम ने कहा कि कई बार ऐसा होता था कि किसी ने डायल 100 पर फोन किया तो भौगोलिक स्थिति आदि को देखते हुए हम चाह कर भी समय से पीड़ित व्यक्ति तक समय से नहीं पहुंच पा रहे थे. अब 112 लागू हो जाने से तकनीक के माध्यम से हम कम से कम रिस्पांस टाइम में पीड़ित व्यक्ति तक पहुंच पाएंगे. सीएम योगी ने कहा कि इस सेवा के आने के बाद आम नागरिकों, व्यापारियों, वरिष्ठ नागरिकों आदि को बेहतर सुविधा मिलेगी.