close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बढ़ते प्रदूषण को लेकर सरकारी अमला सक्रिय, नोएडा की हालत सबसे खराब

शुक्रवार को सीएम ने बैठक में निर्देश दिये थे कि निर्माण कार्य जहां हो रहे है वहां उसको कवर किया जाए, जहां धूल हो वहां पानी डलवाया जाये और कूड़े का सही निस्तारण किया जाए. इसके अलावा स्वास्थ विभाग और नगर निगम को भी फोगिंग करने निर्देश दिए गये हैं.

बढ़ते प्रदूषण को लेकर सरकारी अमला सक्रिय, नोएडा की हालत सबसे खराब
नोएडा में जगह-जगह छिड़काव का कार्य हो रहा है.

लखनऊ: प्रदूषण (Pollution) और स्मॉग (Smog) को लेकर सीएम योगी (Yogi Adityanath) की बैठक के बाद सरकारी अमला सक्रिय हो गया है. शनिवार को लखनऊ नगर निगम ( Lucknow Municipal Corporation) के कर्मचारी अलीगंज, सिकंदर बाग, गोमतीनगर, राजभवन के आस-पास पेड़ों और सड़कों पर पानी का छिड़काव करते नजर आए. लखनऊ की हवा लगातार जहरीली होती जा रही है. हवा में एक्यूआई लेवल लखनऊ में भी 300 के पार जा चुका है, वहीं उत्तर प्रदेश के नोएडा की हालात सबसे बुरी बनी हुई है.

दरअसल, शुक्रवार को सीएम ने बैठक में निर्देश दिये थे कि निर्माण कार्य जहां हो रहे है वहां उसको कवर किया जाए, जहां धूल हो वहां पानी डलवाया जाये और कूड़े का सही निस्तारण किया जाए. इसके अलावा स्वास्थ विभाग और नगर निगम को भी फोगिंग करने निर्देश दिए गये हैं.

वीडियो देखें

वहीं, बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए लखनऊ के एसएसपी कलानिधि नैथानी ने आदेश दिया है कि जिले में डीजल से चल रहे ऑटो टेंपो को सीज कर उन पर वैधानिक कार्रवाई की जाए. एसपी ट्रैफिक सभी थानों और आरटीओ के साथ इसके लिए अभियान चलाएं.

किस शहर की हवा कितनी खराब है
नोएडा का AQI 555
बागपत का AQI 493
गाजियाबाद का AQI 471
हापुड़ का AQI 441
बुलंदशहर का AQI 417
लखनऊ का AQI 325 
मुरादाबाद का AQI 292
कानपुर का AQI 278 
वाराणसी का AQI 345 
लखीमपुर खीरी का AQI 197
आगरा का AQI 193
झांसी का AQI 168