रिटायर्ड कर्नल से मारपीट के आरोपी मुजफ्फरनगर के ADM को यूपी सरकार ने निलंबित किया

इसके बाद एडीएम द्वारा पार्क में तीन पिलर बनाकर किया गया करीब 300 वर्ग फुट का अवैध निर्माण भी ध्वस्त कर दिया गया. 

रिटायर्ड कर्नल से मारपीट के आरोपी मुजफ्फरनगर के ADM को यूपी सरकार ने निलंबित किया
Play

नोएडा/ लखनऊः स्थित अपने घर में अवैध निर्माण कराने को लेकर सेना के एक सेवानिवृत्त कर्नल के साथ हुए विवाद के बाद सुर्खियों में आए मुजफ्फरनगर में तैनात अपर जिलाधिकारी हरीशचंद्र को उत्तर प्रदेश सरकार ने आज निलंबित कर दिया जबकि नोएडा प्राधिकरण ने भी सेक्टर-29 स्थित उनके घर में किये गए अवैध अतिक्रमण को गिरा दिया. अपर मुख्य सचिव मुकुल सिंघल ने मीडिया को बताया कि मुजफ्फरनगर में अपर जिलाधिकारी प्रशासन के पद पर तैनात हरिश्चंद्र को निलंबित कर दिया गया है.

इस बीच, प्रदेश सरकार के नियुक्ति एवं कार्मिक विभाग की वेबसाइट पर जानकारी दी गई कि हरिश्चंद्र को निलंबित करके चित्रकूट धाम मंडल के आयुक्त कार्यालय से संबद्ध कर दिया गया है. उल्लेखनीय है कि नोएडा के थाना सेक्टर 20 में मामला दर्ज होने के बाद से एडीएम परिवार समेत फरार है. उसके फ्लैट में ताला लगा है.

नोएडा प्राधिकरण की टीम आज तड़के करीब 5 बजे सेक्टर 29 स्थित एडीएम के फ्लैट पर पहुंची. फ्लैट में ताला लगा होने के कारण प्राधिकरण की टीम हाइड्रोलिक प्लेटफार्म के जरिये प्रथम तल पर स्थित एडीएम के मकान पर पहुंची. वहां पर प्रवेश द्वार की ओर बने करीब 100 वर्ग फुट के अवैध छज्जे को प्राधिकरण की टीम ने ध्वस्त कर दिया. इसके बाद एडीएम द्वारा पार्क में तीन पिलर बनाकर किया गया करीब 300 वर्ग फुट का अवैध निर्माण भी ध्वस्त कर दिया गया. यह कार्रवाई परियोजना अभियंता एससी मिश्रा तथा अन्य अभियंताओं के नेतृत्व में की गई.

नोएडा प्राधिकरण के परियोजना अभियंता एससी मिश्रा ने बताया कि शीर्ष अफसरों के निर्देश पर सेक्टर- 29 में आज यह कार्यवाही की गई तथा अवैध निर्माण ध्वस्त किया गया.उल्लेखनीय है कि कर्नल वीपीएस चौहान की शिकायत पर 18 अगस्त को एडीएम हरीशचंदा, तथा उनकी पत्नी समेत छह लोगों के खिलाफ कई संगीन धाराओं में सेक्टर- 20 कोतवाली में मामला भी दर्ज कर लिया गया था. पुलिस ने एडीएम के गनर समेत दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया था जबकि एडीएम हरीश चंद्रा तथा उनकी पत्नी समेत बाकी चार लोग पुलिस की गिरफ्त से बाहर है. वहीं सेक्टर- 29 के उनके मकान में भी पिछले कई दिनों से ताला लगा है.

गत 14 अगस्त को एडीएम हरीश चंद्र की शिकायत पर पुलिस ने कर्नल वीपीएस चौहान पर अपहरण, छेड़-छाड़, एससी/एसटी अधिनियम समेत कई संगीन धाराओं में मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया था. बाद में अदालत ने उन्हें जेल भेज दिया था. गत 20 अगस्त को कर्नल वीपीएस चौहान की जमानत हो गयी थी. 

इस मामले में सेक्टर- 20 कोतवाली के प्रभारी मनीष सक्सेना तथा पुलिसक्षेत्राधिकारी अनित कुमार का एसएसपी ने तबादला कर दिया था. कल रात एसएसपी डॉ. अजयपाल शर्मा ने मनीष सक्सेना को लाइन हाजिर कर दिया तथा सीओ अनित कुमार से दादरी का प्रभार लेकर उनको कार्यालय में संबद्ध कर दिया. 

(इनपुट भाषा से)