यूपी : योगी सरकार ने बढ़ाई विधायक निधि, पहले मिलते थे डेढ़ करोड़ रुपये, अब मिलेंगे 2 करोड़ रुपये

राज्‍य के वित्‍त विभाग ने इस मसौदे को पहले ही मंजूरी दे दी थी.

यूपी : योगी सरकार ने बढ़ाई विधायक निधि, पहले मिलते थे डेढ़ करोड़ रुपये, अब मिलेंगे 2 करोड़ रुपये
योगी सरकार ने बढ़ाई विधायक निधि. (फाइल फोटो)

लखनऊ : यूपी विधानसभा में मंगलवार (27 मार्च) को योगी सरकार ने बड़ा ऐलान करते हुए विधायक निधि को बढ़ा दिया. पहले हर साल विधायकों को अपने क्षेत्र में विकास योजनाएं और अन्‍य संसाधनों के लिए डेढ़ करोड़ रुपये मिलते थे, लेकिन अब योगी सरकार ने इसे बढ़ाकर 2 करोड़ रुपये कर दिया है. हालांकि राज्‍य के वित्‍त विभाग ने इस मसौदे को पहले ही मंजूरी दे दी थी. मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने इस मामले में गठित मंत्रियों की कमेटी की रिपोर्ट आने के बाद मंगलवार को विधानसभा में विधायक निधि बढ़ाने का ऐलान किया.

यह भी पढ़ें : मोदी सरकार बिना भेदभाव के काम कर रही है : योगी आदित्यनाथ

हर विधायक को दिया लक्ष्‍य
विधानसभा में विधायक निधि में बढ़ोतरी का ऐलान करते हुए मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने हर विधायक के लिए कुछ लक्ष्‍य भी तय किए हैं. योगी सरकार ने हर विधायक को 100 हैंडपंप लगाने और शहरी क्षेत्र में सबमर्सिबल लगाने की अनुमति दी है. इसके लिए उनकी प्रोत्‍साहन राशि भी बढ़ाकर 9 हजार 5 सौ रुपये कर दी गई है. इससे विधायक अपने क्षेत्र में विकास योजनाओं को तेजी से पूरा कर सकेंगे.

2012 में अखिलेश सरकार ने बढ़ाए थे 25 लाख रुपये
यूपी में इससे पहले 2012 में विधायक निधि में बढ़ोतरी की गई थी. तत्कालीन सीएम अखिलेश यादव ने विधायक निधि को 1 करोड़ 25 लाख रुपये से बढ़ाकर डेढ़ करोड़ रुपये किया था. उस समय अखिलेश यादव ने विधायकों को विधायक निधि से 20 लाख रुपये की एसयूवी गाड़ी खरीदने की छूट भी दी थी. लेकिन विपक्ष के विरोध के बाद उन्हें ये फैसला वापस लेना पड़ा था.

यह भी पढ़ें : UP: शिक्षकों ने खून से लिखी सीएम योगी को चिठ्ठी, 'मांग पूरी नहीं हुई तो ट्रेन से कटकर जान दे देंगे'