UP ऑपरेशन क्लीन: मुख्तार अंसारी गैंग के 6 गुर्गों के हथियारों का लाइसेंस रद्द

गाजीपुर की मोहम्मदाबाद तहसील में 5 लोगों और सैदपुर में 1 गैंग मेंबर का शस्त्र लाइसेंस निरस्त हुआ है. हथियारों का लाइसेंस रद्द करने की कार्रवाई जिलाधिकारी ओमप्रकाश आर्य ने की. जांच में सभी शस्त्र लाइसेंस गलत तरीके से लिए गए मिले.

UP ऑपरेशन क्लीन: मुख्तार अंसारी गैंग के 6 गुर्गों के हथियारों का लाइसेंस रद्द
मुख्तार अंसारी (फाइल फोटो)

गाजीपुर: विकास दुबे के गैंग का करीब-करीब खात्मा करने के बाद यूपी सरकार की टेढ़ी नजर अब मुख्तार अंसारी गैंग पर है. योगी सरकार ऑपरेशन क्लीन के तहत प्रदेश में आपराधिक वारदातें करने वाले कुख्यात गैंग्स का सफाया करने में जुटी हुई है. इसी सिलसिले में मुख्तार अंसारी गैंग के 6 अहम सदस्यों के हथियार लाइसेंस रद्द कर दिए गए. 

गाजीपुर की मोहम्मदाबाद तहसील में 5 लोगों और सैदपुर में 1 गैंग मेंबर का शस्त्र लाइसेंस निरस्त हुआ है. हथियारों का लाइसेंस रद्द करने की कार्रवाई जिलाधिकारी ओमप्रकाश आर्य ने की. जांच में सभी शस्त्र लाइसेंस गलत तरीके से लिए गए मिले. ऐसे में पुलिस इन हथियारों को मालखाने में जमा करने में लगी हुई है. 

इसे भी देखिए: कानपुर: बिकरू हत्याकांड में 8 पुलिसकर्मियों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या वाली रात की बेरहम दास्तान

जिन 6 लोगों के हथियार लाइसेंस निरस्त हुए हैं, उनके नाम हैं- मोहम्मदाबाद के वलीउल्लाह खान, अफजल अली, रामानुज यादव, उदय नारायण यादव और रेयाज अंसारी, जबकि सैदपुर के देवराज सिंह ठाकुर का लाइसेंस निरस्त किया गया है. इनमें से 5 गैंग सदस्य मुख्तार अंसारी के काफी करीबी बताए जा रहे हैं.