close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

भारत-नेपाल सरहद पर हेरोइन की बड़ी खेप के साथ सरगना समेत 5 गिरफ्तार

पुलिस ने पकड़े गए पांचों लोगों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है.

भारत-नेपाल सरहद पर हेरोइन की बड़ी खेप के साथ सरगना समेत 5 गिरफ्तार
पुलिस को ड्रग्स तस्करी के मुख्य सरगना इस्तियाक की काफी दिनों से तलाश थी.

महाराजगंज: यूपी के महाराजगंज जिले के सोनौली कोतवाली क्षेत्र के सिद्धार्थनगर वार्ड में एसएसबी और पुलिस ने ड्रग्स तस्कर के घर पर छापेमारी कर भारी मात्रा में हेरोइन की खेप बरामद की है. बरामद हेरोइन की अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत 12 करोड़ 25 लाख आंकी गई है. वहीं, छापेमारी के दौरान मौके से नेपाली और भारतीय करेंसी भी बरामद हुई है. पुलिस और एसएसबी द्वारा किए गए ड्रग्स के इस ऑपरेशन में मौके से तीन महिलाओं समेत 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. जिनके खिलाफ पुलिस ने 8/22 एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज जेल भेज दिया है.

काफी दिनों से पुलिस इस्तियाक की कर रही थी तलाश
एसएसबी और पुलिस के गिरफ्त में आए ये ड्रग तस्कर काफी दिनों से तस्करी के धंधे में लगे हुए थे. पुलिस को ड्रग्स तस्करी के मुख्य सरगना इस्तियाक की काफी दिनों से तलाश थी. मुखबिर की सूचना मिलने के बाद एसएसबी और सोनौली पुलिस ने सिद्धार्थ नगर वार्ड में स्थित इसके घर पर छापेमारी की. जिसमें मौके से 1225 ग्राम हेरोइन की बड़ी खेप बरामद हुई.

नेपाल भेजने के लिए बाराबंकी से आती थी हेरोइन की खेप
मुख्य सरगना इस्तियाक बाराबंकी से हेरोइन की बड़ी खेप लाता था और अपने ही घर में उसको बेचता और लोगों को पिलवाता था. वहीं, इसके घर में नेपाल से भी लोग आते थे. पुलिस का मानना है कि एक बहुत बड़ी हेरोइन की खेप पकड़ी गई और सरगना के पकड़े जाने से ड्रग्स तस्करी पर लगाम लगेगी.

तस्करों को पकड़ने के लिए ऐसे बुना जाल
दरअसल, जब भी कोई तस्कर या कैरियर गिरफ्तार होता था, तो पूछताछ में वो सभी इस्तियाक का नाम लेते थे. जिसके बाद एसएसबी और पुलिस ने ड्रग्स तस्करी के मुख्य सरगना को गिरफ्तार करने के लिए एक योजना बनाई. इसी के तहत छापेमारी कर भारी मात्रा में हेरोइन बरामद की. इस छापेमारी में एसएसबी ने डॉग स्क्वायड की भी मदद ली. बरामद हेरोइन में कई तरह के ड्रग्स मिले. जिसमें मॉर्फीन, हशीश और मेथाकालोने मुख्य थे, जिनको ये मिलाकर बेचता और पिलाता था. 

डिप्टी एसपी ने बताया कि इसके घर पर ही पैकेजिंग का काम चलता था और घर के लोग ही ये करते थे. ये हेरोइन की पैकेजिंग कर बाहर भी सप्लाई करता था और नेपाल से भी लोग इसके घर आते थे हेरोइन को ले जाने के लिए. पुलिस ने पकड़े गए पांचों लोगों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है.