कानपुर: नाबालिग के साथ क्लीनिक में हुआ सामूहिक दुष्कर्म, एक आरोपी गिरफ्तार, दो फरार

एसपी ग्रामीण प्रद्युमन सिंह ने बताया कि पीड़िता की तहरीर पर बिधनू ने थाने में एफआईआर दर्ज की गई है. प्रॉपर्टी डीलर राज सिंह को हिरासत में लिया गया है.

कानपुर: नाबालिग के साथ क्लीनिक में हुआ सामूहिक दुष्कर्म, एक आरोपी गिरफ्तार, दो फरार
पीड़ित परिजनों के मुताबिक, दुष्कर्म की घटना के बाद छात्रा की तबीयत बिगड़ने लगी. जिसके बाद आरोपियों ने तबीयत खराब होने का बहाना कर उनके परिजनों को सूचना दी.

कानपुर: देशभर में बेटियों के साथ दुष्कर्म की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं. हैदराबाद की घटना के बाद कानपुर में भी एक ऐसा ही मामला सामने आया है. जहां एक नाबालिग लड़की के साथ गांव के ही रहने वाले प्रॉपर्टी डीलर ने एक क्लीनिक में ले जाकर सामूहिक दुष्कर्म किया. पीड़िता का आरोप है कि प्रॉपर्टी डीलर, क्लीनिक के डॉक्टर और उसके एक अन्य साथी ने उसके साथ दुष्कर्म किया है. पीड़िता के परिजनों ने मामले की जानकारी साढ़ चौकी पुलिस को दी. मगर पुलिस ने शिकायत के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं की तो, पीड़ित परिवार ने एसएसपी आवास पहुंच कर न्याय की गुहार लगाई. इसके बाद देर रात आरोपी डॉक्टर, प्रॉपर्टी डीलर सहित तीन लोगों पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. एक आरोपी को गिरफ्तार भी किया गया है.

बिधनू थाना क्षेत्र के रहने वाले प्राइवेट कर्मचारी के मुताबिक, उनकी बेटी कक्षा 11 की छात्रा है. रोज की तरह 22 नवंबर की सुबह स्कूल के लिए घर से निकली थी. लेकिन, जब समय हो जाने के बाद भी घर नहीं लौटी तो, परिजनों में अफरा-तफरी मच गई. आरोप है कि गांव के ही प्रॉपर्टी डीलर का काम करने वाले राज सिंह ने उसे स्कूल छोड़ने के बहाने अपनी कार में बैठा लिया था. इसके बाद छात्रा को घाटमपुर थाना क्षेत्र में अपने मित्र डॉक्टर संजू के क्लीनिक पर ले गया. जहां पर दोनों के अलावा एक अन्य युवक भी मौजूद था. इस दौरान छात्रा को डॉक्टर ने नशीला इंजेक्शन लगा दिया. इसके बाद तीनों आरोपियों ने नाबालिग के साथ सामूहिक दुष्कर्म को अंजाम दिया. 

पीड़ित परिजनों के मुताबिक, दुष्कर्म की घटना के बाद छात्रा की तबीयत बिगड़ने लगी. जिसके बाद आरोपियों ने तबीयत खराब होने का बहाना कर उनके परिजनों को सूचना दी. बेटी की खराब हालत की सूचना मिलते ही परिजन क्लीनिक पहुंचे. जहां पीड़ित बेटी ने अपने परिजनों को आपबीती सुनाई. जिसके बाद पीड़ित परिवार ने आरोपियों के खिलाफ साढ़ चौकी पुलिस से मामले की शिकायत की. कार्रवाई न होता देख पीड़ित परिवार न्याय की गुहार लगाने के लिए मंगलवार की रात एसएसपी आवास पर पहुंच गए.

एसएसपी आवास के पास खड़े होने के बाद भी एसएसपी अनंतदेव तिवारी से उनकी मुलाकात नही हो सकी. जिस पर बंगले में अन्य अधिकारियों से मुलाकात हुई. जिसके बाद मामले की जानकारी होते ही एसएसपी कार्यालय से मुकदमा दर्ज किए जाने का आदेश जारी हुए. वहीं, एसपी ग्रामीण प्रद्युमन सिंह ने बताया कि पीड़िता की तहरीर पर बिधनू ने थाने में एफआईआर दर्ज की गई है. जिसमें से प्रॉपर्टी डीलर राज सिंह को हिरासत में लिया गया है. घटना 22 नवंबर की बताई जा रही है. जिसके चलते पूरी घटना की छानबीन में पुलिस जुट गई है.