close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

यूपी पुलिस की मुनादी, 'सुनो...सुनो...सुनो! बच्चा चोरी की बातों पर ध्यान ना दें...'

यूपी के एडीजी कानून व्यवस्था पीवी रामा शास्त्री ने इस मामले में निर्देश जारी करते हुए सभी जिले के कप्तानों को एक्टिव रहने को कहा है. निर्देश में अफवाह फैलाने और कानून व्यवस्था बिगाड़ने वाले लोगों के खिलाफ सख्ती से निपटने के निर्देश दिए गए हैं.

यूपी पुलिस की मुनादी, 'सुनो...सुनो...सुनो! बच्चा चोरी की बातों पर ध्यान ना दें...'
फाइल तस्वीर.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में बच्चा चोरी की अफवाह को रोकने के लिए पुलिस सड़कों पर उतरकर मुनादी करती नज़र आ रही है. यूपी के कई जिलों में गुरुवार को पुलिस ने शहरों से लेकर ग्रामीण इलाकों तक लोगों को अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील की. यूपी की राजधानी लखनऊ समेत सुलतनपुर, ग़ाज़ियाबाद, बाराबंकी जैसे शहरों में पुलिस डुगडुगी बजाती हुई लोगों से बच्चा चोर अफवाहों पर ध्यान न देने और कानून हाथ में न लेने की बात कहती हुई नज़र आयी.

यूपी के एडीजी कानून व्यवस्था पीवी रामा शास्त्री ने इस मामले में निर्देश जारी करते हुए सभी जिले के कप्तानों को एक्टिव रहने को कहा है. निर्देश में अफवाह फैलाने और कानून व्यवस्था बिगाड़ने वाले लोगों के खिलाफ सख्ती से निपटने के निर्देश दिए गए हैं. उन्होंने बताया है की अब तक प्रदेश में एक महीने में 48 मामले दर्ज हुए है. मेरठ, आगरा, कानपुर, जौनपुर ,एटा ,बुलंदशहर  संभल जैसे जिलों में हुई हिंसा और मॉब लिंचिंग के आरोप में अबतक कुल 104 लोगों को गिरफ्तार किया गया. पूरे प्रदेश में अफवाह की वजह से एक व्यक्ति की मौत हुई है वहीँ 30 लोग घायल हुए हैं.

लाइव टीवी देखें-:

प्रदेश में बच्चा चोरी को लेकर भीड़ के द्वारा पिटाई के मामले पर यूपी पुलिस ने सख्ती दिखाना शुरू कर दिया है. इससे पहले यूपी के डीजीपी ओपी सिंह ने कहा था की उत्तर प्रदेश में बच्चा चोरी की अफवाहें फैलाने पर रासुका भी लगाई जायेगी. उत्तर प्रदेश में बच्चा चोर गिरोह के सक्रिय होने की अफवाह से बेगुनाहों की जान पर आफत आ गयी है. शक के आधार पर भीड़ लोगों पर हमला कर रही है, इसको देखते हुए पूरे प्रदेश में अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ धरपकड़ अभियान की शुरुआत हो गयी है. 

लखनऊ में भी आज निगोहा थाना क्षेत्र में अफवाह फैलाने को लेकर तीन लोगों की गिरफ़्तारी हुई है. लगातार कुछ जिलों से कई ऐसे मामले सामने आए हैं, जिनमें बच्चा-चोरी की अफवाहों को सुनकर लोगों ने अपना आपा खो दिया. जिसपर आज कई जिलों में पुलिस ने  लोगों से अपील की है कि ऐसे कोई भी मामला सामने आने पर सबसे पहले पुलिस से संपर्क करें और किसी भी हालत में कानून हाथ में न लें.