CAA: डीजीपी ओपी सिंह बोले, 'एहतियात के तौर पर करीब 22 जिलों में इंटरनेट बंद'

डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि यूपी में हिंसा के दौरान पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई पर एसआईटी जांच बैठाई गई है. 

CAA: डीजीपी ओपी सिंह बोले, 'एहतियात के तौर पर करीब 22 जिलों में इंटरनेट बंद'

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) के विरोध में पिछले दिनों हुए हिंसक प्रदर्शनों के मद्देनजर पूरे राज्य में धारा 144 (Section 144) लागू कर दी गई है. वहीं, यूपी पुलिस ने आज यानी शुक्रवार को जुमे की नमाज के देखते हुई सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है. उत्तर प्रदेश पुलिस के डीजीपी ओपी सिंह ने सुरक्षा व्यवस्था की तैयारियों को लेकर ZEE मीडिया से बात की. डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि एहतियात के तौर पर 20 से 22 जिलों में इंटरनेट सेवा बंद की गई है. इसके साथ ही प्रदेशभर में भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात किया गया है.

डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि यूपी में हिंसा के दौरान पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई पर एसआईटी जांच बैठाई गई है. उन्होंने कहा कि कोई निर्दोष इन मामलों में ना फंसे, इसे लेकर ही एसआईटी जांच कराई जा रही है. वहीं, उन्होंने कहा कि आईएसआई फंडिंग और कश्मीरी पत्थरबाजी के अलावा सभी एंगल पर जांच की जा रही है. डीजीपीओपी सिंह ने कहा, राज्य में कानून व्यवस्था पूरी तरह से नियंत्रण में है, हम लगातार फोर्स की तैनाती कर रहे हैं. मामलों की जांज के लिए एसआईटी का गठन किया गया है.

उन्होंने कहा, हमने 21 जिलों में इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया है. हालात के मुताबिक इन्हें फिर से लागू कर दिया जाएगा. गौरतलब है कि बीते दिनों सीएए (CAA) और एनआरसी को लेकर हुए विरोध प्रदर्शनों में भड़की हिंसा को देखते हुए राज्य सरकार पूरी सतर्कता बरत रही है.