ट्रेनिंग में पिस्तौल में नहीं डाल पाए गोली, न हो पाया फायर, SP बोले- बेटा तुमसे न हो पाएगा!

ज़ी मीडिया ब्‍यूरो Wed, 24 Feb 2021-9:45 am,

इलाके भर में इस बात की चर्चा हो गई है कि महाराजगंज की पुलिस को सही से ट्रिगर दबाना भी नहीं आता. दरअसल, एसपी प्रदीप गुप्ता ने भारत-नेपाल बॉर्डर से सटे कोल्हुई थाने के थानेदार रामसहाय चौहान को पिस्टल खोलने के लिए कहा. लेकिन कड़ी मशक्कत के बाद भी थानेदार से पिस्टल नहीं खुली.

अमित त्रिपाठी/महाराजगंज: यूपी पंचायत चुनाव (UP Panchayat Chunav 2021) के मद्देनजर पुलिस भी कड़ी सावधानी बरतने के लिए तैयार है. इसको लेकर उत्तर प्रदेश के महाराजगंज में एसपी ने पुलिस लाइन में एक दिन की ट्रेनिंग का आयोजन किया. इस दौरान पुलिसकर्मियों को वेपन फायर (Weapon Fire) करने को बोला गया. लेकिन हैरानी की बात यह रही कि कई थानेदार इस ट्रेनिंग में फेल हो गए और एसपी के मुंह से केवल एक बात निकली, 'बेटा तुमसे न हो पाएगा!'


ये भी पढ़ें: UP पंचायत चुनाव: जारी हुई इन 4 जनपदों की ब्लॉक स्तर की रिजर्वेशन लिस्ट, यहां देखें हर डिटेल


Advertising
Advertising

ये भी देखें: Viral Video: ऊंट ने मस्ती में मारी शख्स को लात, देखकर आप भी हो जाएंगे लोट-पोट​


एक थानेदार नहीं खोल पाए पिस्टल
इलाके भर में इस बात की चर्चा हो गई है कि महाराजगंज की पुलिस को सही से ट्रिगर दबाना भी नहीं आता. दरअसल, एसपी प्रदीप गुप्ता ने भारत-नेपाल बॉर्डर से सटे कोल्हुई थाने के थानेदार रामसहाय चौहान को पिस्टल खोलने के लिए कहा. लेकिन कड़ी मशक्कत के बाद भी थानेदार से पिस्टल नहीं खुली. वहां खड़े बाकी पुलिसकर्मियों ने उन्हें सिखाने की कोशिश भी की, लेकिन थानेदार पिस्टल नहीं खोल पाए. बड़ी देर से थानेदार रामसहाय चौहान की नाकाम कोशिशों को देखते हुए एसपी थक गए और उन्होंने कहा, 'तुम रहने दो, तुमसे न हो पाएगा!' इसके बाद उन्होंने फरेंदा थानेदार गिरजेश उपाध्याय से पिस्टल खोलने को कहा और वह इसमें सफल भी रहे.


ये भी देखें: क्या इस पेड़ पर उग गई हैं 'बकरियां'? Video देख कर तो ऐसा ही लगता है!


दूसरे थानेदार को पता ही नहीं किस एंगल पर करना है फायर
कुछ समय बाद एसपी प्रदीप गुप्ता ने भारत-नेपाल के बरगदवा बॉर्डर थाने की जिम्मेदारी संभाल रहे एसओ संजय दुबे को 45 डिग्री पर टीयर गन चलाने के लिए कहा. एसओ संजय दुबे गन लेकर खड़े तो हो गए, लेकिन उनको यही नहीं पता था कि 45 डिग्री और 90 डिग्री में कोई फर्क भी होता है. इस समय भी पीछे खड़े थानेदारों ने उनकी मदद की, तब जाकर वह टीयर गन चला पाए. 


ये भी देखें: कड़ी मशक्कत के बाद भी कछुए को नहीं चबा पाया मगरमच्छ, ऐसे जान छुड़ा कर भागा


महिला एसओ से खुला ही नहीं बुलेट का पैकेट
इसके बाद एसपी प्रदीप गुप्ता ने महिला एसओ को बुलाया और टीयर गन चलाने के लिए कहा. लेकिन महिला एसओ बुलेट का पैकेट फाड़ने में ही असफल रहीं. इसपर एसपी ने एक बार फिर कहा 'तुमसे भी न हो पाएगा'. 


ये भी देखें: मस्ती करने के लिए झूले पर बैठ गया गधा, फिर ऐसे झूला कि देखकर नहीं रोक पाएंगे हंसी


यह थानेदार करते हैं नेपाल बॉर्डर के संवेदनशील इलाकों की सुरक्षा
आखिर में, एसपी ने टापू पर बसे सोहगीबरवा थाने में तैनात एसओ सुनील वर्मा से इंडिकेटर लाइट को जलाने के लिए कहा. इसपर सभी साथी उन्हें सिखलाने में जुट गए. अब इतने लोगों की मदद मिलने पर भी वह असफल कैसे रह जाते? अखिरकार इंडिकेटर लाइट ऑन हो ही गई. लेकिन इस ट्रेनिंग ने अपने पीछे एक बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है. क्या इन्हीं पुलिसकर्मियों के सहारे नेपाल सीमा से सटे अति संवेदनशील जिले को सुरक्षित रखा जा सकेगा?


ये भी देखें: Viral Video: बगुला दिखा रहा था होशियारी, बाज ने दिखाई ऐसी चालाकी कि मरते-मरते बचा


एसपी ने दी यह जानकारी 
वहीं, एसपी प्रदीप गुप्ता ने बताया कि पंचायत चुनाव के मद्देनजर एक दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन किया गया था. समय-समय पर यह प्रशिक्षण होता रहता है. पुलिसकर्मियों को वेपन चलाने की जानकारी दी गई. कुछ लोगों ने बड़े अच्छे से पिस्टल और रायफल चला कर दिखाई. वहीं, कुछ लोगों को थोड़ी दिक्कत भी हुई. जो प्रशिक्षण में असफल रहे, उन्हें सिखाया गया कि वेपन कैसे चलाया जाता है. 


WATCH LIVE TV


ZEENEWS TRENDING STORIES

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by Tapping this link