close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राज्यसभा उपचुनाव: BJP प्रत्याशी सुरेंद्र नागर और संजय सेठ ने दाखिल किया नामांकन

इस दौरान उनके साथ प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा, सुरेश खन्ना मौजूद, जेपीएस राठौर सहित संगठन के पदाधिकारी और मंत्री मौजूद रहे. 

राज्यसभा उपचुनाव: BJP प्रत्याशी सुरेंद्र नागर और संजय सेठ ने दाखिल किया नामांकन
फाइल फोटो

लखनऊ: राज्यसभा (Rajya Sabha) की दो सीटों पर हो रहे उपचुनाव (By Elections) के लिए बीजेपी (BJP) उम्मीदवार संजय सेठ (Sanjay Seth) और सुरेंद्र नागर (Surendra Nagar) ने गुरुवार (12 सितंबर) को नामांकन दाखिल किया. दोनों नेताओं का निर्विरोध निर्वाचित तय है. सपा के पूर्व राज्यसभा सदस्य संजय सेठ और सुरेंद्र नागर अगस्त में इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल हुए हैं. नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख 12 सितंबर है. 

इस दौरान उनके साथ प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा, सुरेश खन्ना मौजूद, जेपीएस राठौर सहित संगठन के पदाधिकारी और मंत्री मौजूद रहे. 

राज्यसभा प्रत्याशी संजय सेठ ने कहा कि बीजेपी की नीतियों और खासकर विकास के एजेंडे को देखकर ही मैंने बीजेपी को जॉइन किया. उन्होंने कहा कि मैं अनुच्छेद-370 का समर्थन करता हुं और इसलिए बीजेपी में आया हूं. मेरे बारे में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव क्या कहते है, मुझे इस मसले पर कुछ नहीं कहना है. 

लाइव टीवी देखें

वहीं सुरेंद्र नागर ने कहा कि देश मे जो विकास हो रहा है और जिस तरीके से बीजेपी ने अनुच्छेद-370 को हटाया वो काबिले तारीफ है. उन्होंने कहा कि मैं जिस इलाके से आता हूं, वहां इसे लेकर लोगों में बड़ा जोश है. सपा अध्यक्ष के बयान पर उन्होंने कहा कि सियासत में लोग आरोप लगाते रहते है. 

आपको बता दें कि अखिलेश यादव ने संजय सेठ और सुरेंद्र नागर पर तंज कसते हुए कहा था कि ये लोग बिजनेस मैन है जहां फायदा दिखता है वहीं जाते हैं.