close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मुज्जफरनगर: 2-2 बार हुए रेप से आहत पीड़िता ने की खुदकुशी, हथेली पर लिखा आरोपियों का नाम

घटना से आहत युवती आरोपियों को सजा दिलाने के लिए अपने परिजनों से कहती थी. युवती का सवाल था कि आखिर आरोपी मामा को कब सजा मिलेगी? जिसके बाद समय बीतता गया और अब से कुछ महीने पहले मृतक युवती के साथ गांव के ही एक युवक ने भी बलात्कार की घटना को अंजाम दे डाला.

मुज्जफरनगर: 2-2 बार हुए रेप से आहत पीड़िता ने की खुदकुशी, हथेली पर लिखा आरोपियों का नाम
(सांकेतिक तस्वीर)

मुज्जफरनगरः उत्तर प्रदेश के जनपद मुजफ्फरनगर में एक ऐसा सनसनीखेज मामला सामने आया है. जहां एक 21 वर्षीय बलात्कार पीड़ित युवती ने दोषियों को सजा ना मिल पाने से आहत होकर फांसी के फंदे पर लटकर आत्महत्या कर ली. सुचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्मार्टम के लिए भिजवाकर मामले की जांच शुरू कर दी है. घटना मुजफ्फरनगर के छपार थाना क्षेत्र के गांव बढीवाला की है, जहां 21 वर्षीय एक बलात्कार पीड़िता ने दोषियों को सजा ना मिल पाने के कारण फांसी लगाकर अपनी जान दे दी.

दरअसल, बलात्कार की शिकार पीड़ित युवती के साथ बलात्कार की एक नहीं दो-दो घटनाएं हुई थी. लेकिन, दोनों ही मामलों में दबाव के कारण परिजनों की ओर से फैसला करने से आहत युवती ने आत्महत्या की घटना को अंजाम दे डाला. मृतक युवती के भाई की मानें तो 2015 में चार साल पहले मेरठ के दौराला थाना क्षेत्र स्थित बड़कली गांव में युवती के मामा बिरजू ने अपनी ही भतीजी को अपनी हवस का शिकार उस समय बना डाला था, जब युवती अपने ननिहाल रहने के लिए गई हुई थी. उस दौरान रिश्तेदारी के दबाव के चलते मृतक युवती के पिता ने मामले में आपसी सहमति से फैसला कर लिया था.

देखें LIVE TV

रेप मामला: अदालत ने CBI से कहा- दाती महाराज के खिलाफ 16 अक्टूबर तक पूरी करें जांच

घटना से आहत युवती आरोपियों को सजा दिलाने के लिए अपने परिजनों से कहती थी. युवती का सवाल था कि आखिर आरोपी मामा को कब सजा मिलेगी? जिसके बाद समय बीतता गया और अब से कुछ महीने पहले मृतक युवती के साथ गांव के ही एक युवक ने भी बलात्कार की घटना को अंजाम दे डाला. इस मामले में भी गांव के दबाव के चलते परिजन अब तक चुप रहे, जिसके चलते आहत होकर पीड़िता ने आत्महत्या कर ली.

PHOTOS: पाकिस्तान की जुबैदा बेगम को 35 साल बाद मिला हिंदुस्तानी बहू का दर्जा, कई अब भी इंतजार में

आरोप ये भी है की आत्महत्या करने से पहले पीड़िता ने अपने हाथ पर लिखा था कि घटना में बलात्कारी मामा बिरजू, मामी अनीता, बाबा यशपाल और चाची सहियोगी हैं. अब इस सनसनीखेज वारदात के बाद मृतक युवती के परिजन भी आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कर रहे हैं. वहीं इस मामले में अगर पुलिस की मानें तो शनिवार को छपार थाना क्षेत्र के बढीवाला गांव में एक 21 वर्षीय युवती ने फंदे पर लटककर आत्महत्या कर ली. घटना में रेप जैसी कुछ बात सामने आई है.