UP में उपभोक्ताओं को लगेगा बिजली का झटका, दरें बढ़ाने की तैयारी में UPPCL

 बिजली कंपनियों का प्रस्ताव स्वीकार होने पर बिजली की दरों में बढ़ोत्तरी होगी. बिजली की दर में उपभोक्ता के लिए 8 फीसदी तक का इजाफा होने की आशंका है. 

UP में उपभोक्ताओं को लगेगा बिजली का झटका, दरें बढ़ाने की तैयारी में UPPCL
प्रतीकात्मक फोटो

लखनऊ: अभी तक जनता पेट्रोल और डीजल के बढ़ते हुए दामों से परेशान है. लेकिन उत्तर प्रदेश की जनता को महंगाई का एक और झटका लगने वाला है. प्रदेश की विद्युक नियामक कंपनी UPPCL इस वित्तीय वर्ष के घाटे को पूरा करने के लिए उपभोक्ताओं की जेब पर डाका डालने को तैयार है. जल्दी ही UPPCL सूबे में बिजली की दरें बढ़ा सकता है. 

बिजली कंपनियों ने किया 4500 करोड़ का घाटा 
यूपी पावर कॉर्पोरेशन का दावा है कि बिजली कंपनियों ने अब तक 4500 करोड़ रुपये का घाटा किया है. ऐसे में वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए विद्युत नियामक आयोग में 71000 करोड़ रुपये के वार्षिक राजस्व का प्रस्ताव दाखिल किया गया है. बिजली कंपनियों का प्रस्ताव स्वीकार होने पर बिजली की दरों में बढ़ोत्तरी होगी.

बिजली की दर में उपभोक्ता के लिए 8 फीसदी तक का इजाफा होने की आशंका है. माना जा रहा है कि बिजली का ये झटका शहरी उपभोक्ताओं को लगना तय है. गांव की बिजली और कोरोना के चलते मंदे हुए कारोबार के तहत उन्हें राहत मिल सकती है, लेकिन घरेलू उपभोक्ताओं पर एक बार फिर बिजली की मार पड़ेगी. 

WATCH LIVE TV