यूपी : संभल के 202 गांवों में जल्‍द छा जाएगा अंधेरा, लोगों में मचा हड़कंप, यह है वजह

इन गांवों के लोगों ने दो महीने से नहीं भरा है बिजली का बिल. बिजली विभाग पर है 40 करोड़ रुपये बकाये का बोझ.

यूपी : संभल के 202 गांवों में जल्‍द छा जाएगा अंधेरा, लोगों में मचा हड़कंप, यह है वजह
फाइल फोटो
Play

संभल : उत्‍तर प्रदेश के 202 गांव जल्‍द अंधेरे में डूब जाएंगे. यहां के संभल जिले केे बिजली विभाग ने इन गांवों की बिजली काटने के आदेश दे दिए हैं. बिजली विभाग का कहना है कि ऐसा आदेश इसलिए दिया गया है क्‍योंकि इन गांवों के बिजली उपभोक्‍ताओं ने अपने बिजली के बिल नहीं जमा किए हैं. इससे बिजली विभाग पर करीब 40 करोड़ रुपये का बोझ आ गया है.

सीईए लेह-लद्दाख में विकसित कर रहा बिजली पारेषण का बुनियादी ढांचा

दरअसल संभल जिले के इन 202 गांवों की बिजली काटने का आदेश बिजली विभाग के एक्स ई एन डीसी शर्मा ने दिए हैं. यहां के चंदौसी डिवीजन के एक्स ई एन के फरमान पर बिजली महकमा 202 गांवों की बिजली गुल करने की तैयारी में है. एक्स ई एन के आदेश पर ऐसे गांव चिह्नित किए गए हैं, जिन पर बिजली विभाग का 40 करोड़ रुपये बिजली का बिल बकाया है. इन गांवों के बिजली उपभोक्ताओं ने पिछले दो महीने से बिजली बिल 

जमा नहीं किया है. एक्स ई एन के फरमान पर बिजली महकमे की कार्रवाई से इन सभी 202 गांवों के लोगों में हड़कंप मचा हुआ है. दरअसल संभल में बिजली उपभोक्ताओं पर करोड़ों के बकाया बिजली बिल के भुगतान न होने से बिजली महकमे के अफसर परेशान हैं. तमाम प्रयासों के बावजूद बिजली महकमा उपभोक्ताओं से बकाया बिल का भुगतान नहीं वसूल पा रहा है.

बिजली चोरी में यूपी नंबर 1, केंद्र सरकार ने लगाई फटकार

चंदौसी डिविजन में ही बिजली बिभाग को सितंबर में 11 करोड़ 29 हजार रुपये की वसूली करनी है. लेकिन बिजली महकमा 28 दिन में सिर्फ 3 करोड़ रुपये ही वसूल पाया है. ऐसे में आला अफसरों के दबाव से परेशान चन्दौसी डिविजन के एक्स ई एन डीसी शर्मा ने डिविजन के ऐसे 202 गांवों की बिजली काटे जाने के आदेश दिए हैं. इनमें वो गांव शामिल हैं, जिनके बिजली उपभोक्‍ताओं पर 40 करोड़ रुपये का बिजली बिल बकाया है.