सबसे कम उम्र की जिला पंचायत सदस्य बन आरती ने रचा इतिहास, क्षेत्र के विकास के लिए करेंगी काम

21 साल की आरती को राजनीति में कोई रुचि नहीं थी लेकिन परिवार की राजनीतिक विरासत को देखते-देखते वह बड़ी हुई हैं. आरती अभी बीएससी तृतीय वर्ष की छात्रा हैं

सबसे कम उम्र की जिला पंचायत सदस्य बन आरती ने रचा इतिहास, क्षेत्र के विकास के लिए करेंगी काम

रवि कुमार गुप्ता/बलरामपुर: यूपी के बलरामपुर में सबसे कम उम्र की जिला पंचायत सदस्य बनकर एक छात्रा ने इतिहास रच दिया है. चौधरीडीह वार्ड नंबर 17 से जिला पंचायत सदस्य के चुनाव में 21 साल की छात्रा, आरती तिवारी ने जीत दर्ज कर सबसे कम उम्र की जिला पंचायत सदस्य होने का गौरव प्राप्त किया है. आरती देवी जिले में यूथ आइकन के रूप में उभर रही हैं.

विरासत में मिली राजनीति
21 साल की आरती को राजनीति में कोई रुचि नहीं थी लेकिन परिवार की राजनीतिक विरासत को देखते-देखते वह बड़ी हुई हैं. आरती अभी जिले के महारानी लाल कुंवरि स्नातकोत्तर महाविद्यालय में बीएससी तृतीय वर्ष की छात्रा हैं. इन्होंने जिले के वार्ड नंबर 17 चौधरीडीह से जिला पंचायत सदस्य पद के लिए चुनाव लड़ा था. वह 7157 मत प्राप्त करके विजयी हुईं. जिला पंचायत चुनावों को मिनी विधायकी का चुनाव कहा जाता है. इतने कम उम्र में यह सफलता मिलना अपने आप में बड़ी बात है.

दिग्गजों को हराकर हासिल की चुनाव में जीत
आरती तिवारी बीजेपी के समर्थन से चुनाव लड़ी थीं. दिग्गजों को हराकर चुनाव में जीत दर्ज करने वाली आरती को 7157 मत प्राप्त हुए. अपने चाचा श्याम मनोहर तिवारी की प्रेरणा से आरती ने राजनीति में अपनी राह चुनी. आरती के चाचा श्याम मनोहर तिवारी बीजेपी के निष्ठावान कार्यकर्ता माने जाते हैं. चाचा की प्रेरणा पाकर आरती ने जिला पंचायत चुनाव लड़ने का मन बनाया और भारतीय जनता पार्टी से अपनी उम्मीदवारी पेश की. 

चौधरीडीह जिला पंचायत क्षेत्र से लड़ा चुनाव
बीजेपी ने समर्थन देकर आरती तिवारी को चौधरीडीह जिला पंचायत क्षेत्र से अपना उम्मीदवार बनाया. चुनाव के दौरान आरती ने क्षेत्र में घर-घर जाकर लोगों से अपने पक्ष में मतदान करने की अपील की और क्षेत्र में विकास के प्रति अपने समर्पण को प्रदर्शित किया. जनता ने बीजेपी उम्मीदवार आरती तिवारी और उनके चाचा श्याम मनोहर तिवारी के वादों पर मुहर लगाई, जिसका परिणाम हुआ की आरती तिवारी ने अच्छे वोटों से जीत दर्ज की.

कोरोना पॉजिटिव आने के बाद दोबारा नहीं होगा RTPCR टेस्ट, जानिए ICMR की नई एडवाइजरी

जनता की उम्मीदों पर खरी उतर सकूं-आरती
जीत हासिल करने के बाद आरती ने कहा कि उसने चुनाव के दौरान क्षेत्र की जनता से विकास के जो वादे किए हैं उसे पूरा करने का प्रयास करूंगी. उन्होंने कहा कि इस उम्र में मुझे बड़ी जिम्मेदारी मिली है. मैं कोशिश करूंगी कि क्षेत्र की जनता की उम्मीदों पर खरी उतर सकूं. गांव को विकास की मुख्य धारा से जोड़ सकूं ऐसी कोशिश रहेगी. 

क्षेत्रीय विधायक कैलाश नाथ शुक्ल ने आरती के हौसलों को तारीफ करते हुए कहा कि अपनी मेहनत और लगन से आरती क्षेत्र के लोगों की पहली पसंद बनी और जीत दर्ज की. तुलसीपुर के बीजेपी विधायक कैलाश नाथ शुक्ला ने आरती को उसके उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं दी.

जेल से दो महीने के लिए रिहा किए जाएंगे करीब 300 कैदी, जानिए क्यों?

WATCH LIVE TV