सीएम योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 की जांच पर जताया संतोष, टाइम मैगजीन भी कर चुकी है तारीफ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में 2.5 करोड़ से अधिक कोविड-19 की जांच किए जाने पर संतोष व्यक्त किया है. प्रदेश में कोविड-19 की रिकवरी दर पर संतोष व्यक्त करते हुए सीएम ने कोरोना से बचाव व इलाज की व्यवस्थाओं को पूरी तरह चुस्त-दुरुस्त बनाए रखने का निर्देश दिया है.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 की जांच पर जताया संतोष, टाइम मैगजीन भी कर चुकी है तारीफ
फाइल फोटो

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में 2.5 करोड़ से अधिक कोविड-19 की जांच किए जाने पर संतोष व्यक्त किया है. प्रदेश में कोविड-19 की रिकवरी दर पर संतोष व्यक्त करते हुए सीएम ने कोरोना से बचाव व इलाज की व्यवस्थाओं को पूरी तरह चुस्त-दुरुस्त बनाए रखने का निर्देश दिया है. उन्होंने कहा कि वैक्सीनेशन संबंधी तैयारियों से जुड़े सभी काम मानकों के अनुरूप ही होने चाहिए. उनमें कतई शिथिलता न बरती जाए.

अजीत सिंह हत्याकांड: CCTV में दिखी लाल गाड़ी पुलिस ने की बरामद, ड्राइवर भी हिरासत में

टेस्टिंग की भूमिका को बताया महत्वपूर्ण

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को कहा कि कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने में टेस्टिंग की भूमिका महत्वपूर्ण है. इसलिए टेस्टिंग के कार्य को पूरी क्षमता से संचालित किया जाए.  उन्होंने कोविड अस्पतालों की व्यव्स्थाओं को पूरी तरह चुस्त-दुरुस्त बनाए रखने और कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग को प्रभावी ढंग से संचालित रखने का निर्देश दिया.

ई-परामर्श पर दिया जोर
सीएम योगी ने कोरोना वैक्सीनेशन के कार्यों पर कहा कि, जिलों में किए जा रहे कार्यों की नियमित मॉनिटरिंग करते हुए आवश्यक मार्गदर्शन प्रदान किया जाए. साथ ही उन्होंने कहा कि  ई-संजीवनी एप का व्यापक प्रचार-प्रसार करते हुए अधिक से अधिक लोगों को इसके माध्यम से ई-परामर्श की सुविधा उपलब्ध कराई जाए.

कोविड मैनेजमेंट को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और प्रदेश सरकार के प्रयासों का Time Magazine में हाल ही में उल्लेख किया गया था. मैगजीन में सीएम योगी के कोरोना काल में किए कार्यों का उल्लेख करते हुए एक रिपोर्ट प्रकाशित की गई. रिपोर्ट में प्रदेश में कोरोना की वजह से हुई मौतों पर नियंत्रण पाने के साथ रिकवरी रेट में निरंतर बढ़ोतरी होने के लिए प्रदेश सरकार के प्रयासों के बारे में बताया गया है.

कोरोना में प्रदेश सरकार ने किए ये काम

मौतों पर नियंत्रण:
प्रदेश में कोरोना से हुईं मौतों पर नियत्रंण और रिकवरी रेट में 94% से ऊपर बढ़ोतरी को लेकर रिपोर्ट छापी है.

सीएम योगी की सक्रियता:
टाइम मैगजीन में कहा गया है कि कोरोना से निपटने की तैयारियों को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ फरवरी 2020 से ही अधिकारियों के साथ सक्रिय हो गए थे.

टीम 11 का गठन:
मैगजीन में योगी आदित्यनाथ के टीम-11 का विशेष उल्लेख किया गया है. सीएम योगी ने प्रदेश के वरिष्ठ ब्यूरोक्रेट्स को लेकर टीम-11 का गठन किया था, जिनके साथ वह रोजाना प्रदेश की समीक्षा करते हैं.

जनता कर्फ्यू और लॉकडाउन:
रिपोर्ट में कहा गया है कि जनता कर्फ्यू 22 मार्च को किया गया था, लेकिन सीएम योगी पहले मुख्यमंत्री थे, जिन्होंने 3 दिन का लॉकडाउन तत्काल घोषित कर दिया था.

कोरोना टेस्टिंग में रिकॉर्ड स्थापित:
टाइम मैगजीन में कहा गया है कि 22 मार्च 2020 को यूपी के पास केवल 60 टेस्ट करने की क्षमता थी, लेकिन ये निरंतर बढ़ती गई और सीएम योगी के लगातार प्रयासों से आज प्रदेश में 1 लाख 75 हजार टेस्टिंग रोजाना की जा सकती है.

कोविड हॉस्पिटल की स्थापना:
आर्टिकल में यूपी सीएम के प्रयासों का उल्लेख किया गया है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सक्रियता से आज प्रदेश में 671 कोविड अस्पताल हैं. इनमें 571 लेवल-1 के और 77 अस्पताल लेवल-2 के हैं. साथ ही, 26 हॉस्पिटल लेवल- 3 के तैयार किए गए हैं.

ये भी देखें: 

Video: पाकिस्तान में इंसान तो क्या जानवर भी परेशान, चिड़ियाघर से भागा शुतुरमुर्ग

Video: अपनी गाड़ी के Oil Tank का रखें ख्याल, वरना हो सकता है यह हादसा< /strong>

WATCH LIVE TV