close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

उत्तर प्रदेशः झांसी में बदमाशों ने थाना प्रभारी को मारी गोली, गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती

घटना की सूचना मिलते ही एसएसपी और डीआईजी थाना पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे और घटना स्थल का जायेजा लिया, वहीं तत्काल घायल थाना प्रभारी को उपचार के लिये अस्पताल भेजा.

उत्तर प्रदेशः झांसी में बदमाशों ने थाना प्रभारी को मारी गोली, गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती
झांसी-कानपुर हाईवे पर बदमाशों ने थाना प्रभारी को बुलाकर उनपर फायरिंग कर दी. (सांकेतिक तस्वीर)

झांसीः झांसी में मोंठ थाना क्षेत्र के बम्हरौली गांव के पास झांसी-कानपुर हाईवे पर बदमाशों ने थाना प्रभारी को बुलाकर उनपर फायरिंग कर दी, गोली कान से छुलते हुये निकली जिससे वे जख्मी हो गये. घटना के बाद बदमाश बाइक छोड गये और थाना प्रभारी की प्राइवेट कार लूट कर अपने साथ ले गये. घटना की सूचना मिलते ही एसएसपी और डीआईजी थाना पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे और घटना स्थल का जायेजा लिया, वहीं तत्काल घायल थाना प्रभारी को उपचार के लिये अस्पताल भेजा. कई थानों की पुलिस फायरिंग करने वाले बदमाशों की तलाश में जुटी है.

झांसी एसएसपी डॉ ओपी सिंह के मुताबिक मोंठ थाना प्रभारी इंस्पेक्टर छुटटी पर गये हुये थे आज कानपुर से जब वह वापिस अपनी कार से थाना पर आ रहे थे तभी उनके पास एक स्थानीय व्यक्ति का फोन आया कि आपसे मिलना है, इंस्पेक्टर धर्मेंद्र सिंह चैहान बम्हरौली गांव के पास पहुंचे तभी पुष्पेन्द्र यादव और उसके साथ एक और शख्स बाइक से आए और तमंचे से फायर कर दिया. गोली इंस्पेक्टर के कान से छूते हुए निकल गई और वे गाल में छर्रे लगने से जख्मी हो गए. 

देखें LIVE TV

UP: वाहन चेकिंग के दौरान दबंगई दिखा पुलिस से भिड़े BJP नेता, दरोगा ने कर दी पिटाई

सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और इंस्पेक्टर को इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया, घटना की सूचना मिलने पर एसएसपी डॉ ओपी सिंह, डीआईजी सुभाष सिंह बघेल मौके पर पहुंचे और घटना स्थल का जायजा लिया. बताया जा रहा है कि बदमाश अपनी बाइक छोड़कर इंस्पेक्टर की कार लूट फरार हो गए. 

कानपुरः कचरे के कारण इन गांवों के युवा हैं कुंवारे, न जाती है कोई बारात, न उठती कोई डोली

एसएसपी ने बताया कि 29 सितंबर को इंस्पेक्टर ने पुष्पेंद्र यादव की गाड़ी अवैध खनन ले जाने पर उसे बंद की थी, इसी को लेकर पुष्पेन्द्र और उसके भाई ने इंस्पेक्टर धर्मेन्द्र सिंह चैहान पर हमला किया है. मौके से एक कारतूस का खोखा और बाइक बरामद की गई है. वहीं घटना के बाद बदमाश फरार हो गए, जिसके चलते बदमाशों की तलाश में पुलिस की कई टीमों को लगाया गया है.