विवाहित प्रेमिका को कॉल करने पर फोन आ रहा था बिजी, प्रेमी ने मिलने बुलाया और फिर....

राजबहादुर पाल की पत्नी अनसुइया की लाश 23 जून की सुबह गांव के बाहर जंगल में मिली थी.

विवाहित प्रेमिका को कॉल करने पर फोन आ रहा था बिजी, प्रेमी ने मिलने बुलाया और फिर....
पुलिस ने सुलझाया अनसुइया हत्याकांड.

रविंद्र निगम/हमीरपुर: उत्तर प्रदेश के हमीरपुर में 40 वर्षीय अनसुइया हत्याकांड को पुलिस ने सुलझाते हुए उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है. अनसुइया का शव तीन दिन पहले जंगल में मिला था, उसकी गला घोंटकर हत्या की गई थी. मामला राठ कोतवाली क्षेत्र का है. जहां, आरोपी जयहिंद ने बताया कि अनसुइया का फोन बिजी आ रहा था, जिससे शक पैदा हुआ और विवाद इतना बढ़ गया कि गुस्से में उसकी हत्या कर दी.

'विवाहित अनसुइया के थे आरोपी जयहिंद से सबंध'
एसपी हमीरपुर श्लोक कुमार ने बताया कि राजबहादुर पाल की पत्नी अनसुइया की लाश 23 जून की सुबह गांव के बाहर जंगल में मिली थी. हत्याकांड के खुलासे के लिए टीम गठित की गई थी. विवेचना के दौरान पता चला कि विवाहित अनसुइया के जयहिंद विश्वकर्मा से संबंध थे, इनका रोज मिलना जुलना होता था और हर दिन मोबाइल पर लंबी बात होती थी. आरोपी का मृतका के घर आना-जाना रहता था.

अनसुइया की बेटी को लग गया था रिश्ते के बारे में पता
पूछताछ में जयहिंद ने बताया कि वो अविवाहित है और उसके राज बहादुर की पत्नी अनसुइया से संबंध थे. राज बहादुर का एक्सीडेंट में पैर कट गया, जिस वजह से वो कोई काम नहीं करता था. ऐसे में अनसुइया को खर्च जयहिंद ही दिया करता था. दोनों के रिश्ते के बारे में अनसुइया की बेटी को पता चलने पर जयहिंद ने उसके घर जाना बंद कर दिया था.

लड़ाई के बाद उतारा मौत के घाट
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि जयहिंद के मुताबिक जब उसने अनसुइया को दो-तीन बार कॉल किया तो उसका नंबर बिजी आया, जिस पर शक हुआ कि अनसुइया किसी और से बात कर रही है. अनसुइया से मुलाकात के दौरान फोन चेक कराने के लिए कहा तो लड़ाई हो गई. जयहिंद ने गुस्से में दो-तीन थप्पड़ लगाए तो अनसुइया पुलिस को शिकायत करने लगी, जिस पर जयहिंद ने अनसुइया की साड़ी के पल्लू से गला घोंटकर हत्या कर दी.