तलाक की अजीबोगरीब अर्जी: मेरी पत्‍नी नहाती नहीं है, मैं उसके साथ नहीं रह सकता

"मेरी पत्‍नी नहाती नहीं है, मैं उसके नहीं नहाने की आदत से परेशान हूं और उसके साथ नहीं रह सकता, इसलिए मुझे तलाक दिला दिला दिया जाए". 

तलाक की अजीबोगरीब अर्जी: मेरी पत्‍नी नहाती नहीं है, मैं उसके साथ नहीं रह सकता
सांकेतिक तस्वीर

अलीगढ़: उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ से तीन तलाक का एक अजीबो गरीब मामला प्रकाश में आया है. यहां पर एक पति अपनी पत्नी से इसलिए परेशान हो गया, क्योंकि वह रोज नहाती नहीं है. अब वह पत्नी की इस आदत की वजह से उसे तलाक देने के लिए वुमन प्रोटेक्शन सेल के पास पहुंच गया है. 

दो साल पहले हुई थी शादी 
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक दो साल पहले चंडौस के लड़के का निकाह क्‍वार्सी की रहने वाली एक युवती से हुआ था. दंपति के एक बेटा भी हुआ. इसके बाद भी दोनों के बीच रिश्तों में सुधार नहीं हुआ. हर रोज झगड़ा होने लगा इसके बाद पति ने फैसला लिया कि वह अब अपनी पत्नी के साथ नहीं रहना चहता. 

"मेरी पत्‍नी नहाती नहीं है"
इसके बाद मामला वूमेन प्रोटेक्‍शन सेल तक पहुंच गया, जहां शादी को बचाने के लिए दोनों की काउंसलिंग की जा रही है. तालाक की वजह पूछे जाने पर पति ने काउंसलर से कहा "मेरी पत्‍नी नहाती नहीं है, मैं उसके नहीं नहाने की आदत से परेशान हूं और उसके साथ नहीं रह सकता, इसलिए मुझे तलाक दिला दिला दिया जाए". पति की इस बात से सभी लोग हैरान रह गए. इसके बाद भी दोनों के बीच मध्यस्थता कराकर शादी को टूटने से बचाने के लिए मौका दिया गया है.

काउंसलर तलाक की इस अर्जी को किसी हिंसक या गंभीर अपराध के तौर पर नहीं देख रही हैं, इसीलिए कोशिश है कि दोनों के बीच वैचारिक मतभेदों को दूर कर एक साथ रहने के लिए राजी होने का मौका दिया जाए.

WATCH LIVE TV