बहराइच: अफसर शाही से तंग आकर भाजपा सभासद ने खून से लिखा पत्र, ईओ पर लगाए धांधली के आरोप! सुनवाई ना होने पर दी ऐसी धमकी
topStories0hindi1440176

बहराइच: अफसर शाही से तंग आकर भाजपा सभासद ने खून से लिखा पत्र, ईओ पर लगाए धांधली के आरोप! सुनवाई ना होने पर दी ऐसी धमकी

 बहराइच में बीजेपी पिछड़ा वर्ग के जिला उपाध्यक्ष और नामित सभासद ने खून से पत्र लिखा है.. उन्होंने वार्ड आरक्षण में धांधली का आरोप लगाया है. पढ़िए पूरा मामला

राजीव शर्मा/बहराइच: उत्तर प्रदेश सरकार एक तरफ जहां पर जीरो टॉलरेंस पर काम कर रही है तो वहीं अफसरशाही में दिन पर दिन इजाफा हो रहा है. अफसर इतने बेलगाम हो गए हैं कि बीजेपी नेताओं और जनप्रतिनिधियों की भी बात मानने को तैयार नहीं है. ताजा मामला बहराइच के एक बीजेपी नेता का है, जिसने सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अपने खून से खत लिखकर आधिकारियों के खिलाफ शिकायत की है.

जानिए क्या है पूरा मामला!
यूपी के बहराइच में भारतीय जनता पार्टी में पिछड़ा वर्ग के जिला उपाध्यक्ष संजय जयसवाल ने खून से ख़त लिखकर नगर पालिका बहराइच के अधिशाषी अधिकारी पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए हैं. उनका कहना है कि आगागी दिनों में होने वाले नगर पालिका के चुनाव में सपा को लाभ पहुंचाने के लिए नगर पालिका के ईओ ने पिछड़े वर्ग के मतदाताओं की संख्या को कम कर दिया है.  इसके लिए खून से शिकायती पत्र लिखा है.

खून से खत लिखकर की शिकायत 
भाजपा पिछड़ा वर्ग के जिला उपाध्यक्ष संजय जायसवाल ने मांगे पूरी न होने से आहत होकर जिलाधिकारी डा. दिनेश चंद्र, नगर विधायिका अनुपमा जायसवाल व महसी विधायक सुरेश्वर सिंह को खून से पत्र लिखा है. उन्होंने ईओ नगर पालिका बाल मुकुंद मिश्रा पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि ईओ द्वारा समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी को फायदा पहुंचाने के लिए पिछड़ों की संख्या में धांधली की गई है. 

संख्या की गणना में धांधली कर रहे ईओ
संजय का कहना है कि वार्ड नंबर 22 चिक्कीपुरा में 1610 पिछड़ों की संख्या है, जिसे घटाकर 1430 कर दिया गया है ताकि यह सीट पिछड़ी आरक्षित न होने पाए. उन्होंने कहा कि ईओ समाजवादी के लोगों से पैसा लेकर संख्या की गणना में धांधली कर रहे हैं. 

नस काटने की दी धमकी
उन्होंने कहा कि अपनी सरकार में और बीजेपी कार्यकर्ता होने के बाद भी वो इस धांधली के खिलाफ सड़क पर उतर कर संघर्ष करेंगे. इसी के साथ ही उन्होंने आगे कहा कि वह अपनी नस काट कर दिखाएंगे कि पिछड़ों का खून इतना भी खराब नहीं है. उन्होंने कहा कि अगर इस बार हमारी मांगे नहीं पूरी हुई तो कार्यालय में घुसकर अपने हाथों की नस काट देंगे और दिखाएंगे कि हम किसी से कम नहीं है.

आज की ताजा खबर: यूपी-उत्तराखंड की इन खबरों पर बनी रहेगी नजर, पढ़ें 14 नवंबर के बड़े समाचार
 

 

ये भी देखे

Trending news