महंत नरेंद्र गिरी के अंतिम दर्शन के लिए प्रयागराज आएंगे सीएम योगी, पोस्टमार्टम को लेकर लिया जाएगा फैसला

अखाड़ा परिषद के उपाध्यक्ष महंत देवेंद्र सिंह शास्त्री, जो नरेंद्र गिरी के करीबी भी रहे हैं, उन्होंने सीएम योगी से उच्च स्तरीय जांच की मांग की है. संतों की मांग है कि इस कथित आत्महत्या मामले में सीबीआई जांच हो...

महंत नरेंद्र गिरी के अंतिम दर्शन के लिए प्रयागराज आएंगे सीएम योगी, पोस्टमार्टम को लेकर लिया जाएगा फैसला

प्रयागराज: अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी की कथित आत्महत्या से पूरे संत समाज में शोक की लहर दौड़ गई है. वह प्रयागराज के अल्लापुर में स्थित बाघम्बरी मठ के महंत और त्रिवेणी संगम स्थित बड़े हनुमान मंदिर के प्रमुख व्यवस्थापक थे. सनातन धर्म से लगाव और राजनीतिक गलियारों से जुड़ाव के चलते इनके द्वारा समय-समय पर दिए गए बयान सुर्खियों में रहे. ऐसे में पीएम मोदी, सीएम योगी, डिप्टी सीएम समेत कई नेताओं को विश्वास भी नहीं हो रहा कि नरेंद्र गिरी अब इस दुनिया में नहीं रहे. 

प्रयागराज के गांव से अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष पद तक, जानें महंत नरेंद्र गिरी का सफर

9.00 बजे प्रयागराज पहुंचेंगे सीएम योगी
बताया जा रहा है कि आज सुबह 9.00 बजे सीएम योगी प्रयागराज आएंगे और अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष रहे महंत नरेंद्र गिरी के शव का अंतिम दर्शन करेंगें. सीएम योगी जब महंत नरेंद्र गिरी के शव का अंतिम दर्शन कर लेंगे, उसके बाद अखाड़ा परिषद के संत और पंच परमेश्वर  उनके दर्शन करेंगें. इसके बाद सुबह पंच परमेश्वर यह तय करेंगें कि महंत नरेंद्र गिरी का पोस्टमॉर्टम होगा या नहीं.

संत परंपरा से भू समाधि
जानकारी के मुताबिक, महंत नरेंद्र गिरी को बाघम्बरी मठ गद्दी में ही संत परंपरा के अनुसार भू समाधि दी जाएगी. इसके पहले सुबह करीब 11:30 बजे से आम जनता के दर्शन के लिए उनका शव रखा जाएगा. 

उत्तराखंड पुलिस ने स्वामी आनंद गिरी के घर को चारों ओर से घेरा, कभी भी हो सकती है गिरफ्तारी

सीबीआई जांच की हो रही मांग
बता दें, अखाड़ा परिषद के उपाध्यक्ष महंत देवेंद्र सिंह शास्त्री, जो नरेंद्र गिरी के करीबी भी रहे हैं, उन्होंने सीएम योगी से उच्च स्तरीय जांच की मांग की है. संतों की मांग है कि इस कथित आत्महत्या मामले में सीबीआई जांच हो. अखाड़े के उपाध्यक्ष ने कहा कि महंत नरेंद्र गिरी बेहद आत्मबल शख्सियत थे. ऐसे में आत्महत्या को लेकर अखाड़ा परिषद के उपाध्यक्ष ने आशंका जताई है.

WATCH LIVE TV