वकील के बेटे की हत्या कर दो बदमाशों ने मांगी 50 लाख की फिरौती, अमीर बनने के लिये रची थी साजिश
X

वकील के बेटे की हत्या कर दो बदमाशों ने मांगी 50 लाख की फिरौती, अमीर बनने के लिये रची थी साजिश

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में फिरौती के लिए एक वकील के नाबालिग लड़के की दो बदमाशों ने हत्या कर दी. अपहरण और फिरौती की जानकारी मिलने पर एक्टिव हुई पुलिस ने दोनों आरोपियों को पकड़ लिया और उनकी निशानदेही पर लड़के के शव एक नाले से बरामद कर लिया है.

वकील के बेटे की हत्या कर दो बदमाशों ने मांगी 50 लाख की फिरौती, अमीर बनने के लिये रची थी साजिश

नितिन श्रीवास्तव/बाराबंकी: उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में फिरौती के लिए एक वकील के नाबालिग लड़के की दो बदमाशों ने हत्या कर दी. अपहरण और फिरौती की जानकारी मिलने पर एक्टिव हुई पुलिस ने दोनों आरोपियों को पकड़ लिया और उनकी निशानदेही पर लड़के के शव एक नाले से बरामद कर लिया है. पुलिस पूछताछ में दोनों आरोपियों ने बताया कि जल्द अमीर बनने के चक्कर में उन लोगों ने इस वारदात को अंजाम दिया है.

फर्स्ट इयर का था स्टूडेंट 
पूरा मामला बाराबंकी कोतवाली की नगर कोतवाली के फतहाबाद से जुड़ी है. यहां के रहने वाले वकील बीएल गौतम के 17 वर्षीय छोटे बेटे आशुतोष गौतम उर्फ सूरज कल सुबह संदिग्ध हालात में लापता हो गया था. वह सफदरगंज के एक कॉलेज में ग्रेजुएशन फर्स्ट इयर का स्टूडेंट था. काफी देर तक घर नहीं आने पर परिजनों ने फोन किया तो उसका फोन भी स्वीच ऑफ था.

मृतक के गांव में ही है आरोपियों की रिश्तेदारी 
आशुतोष की तलाश उसके घर वाले कर ही रहे थे कि उसके बड़े भाई अनुराग के फोन पर एक काल आई और 50 लाख रुपये फिरौती न देने पर उसके छोटे भाई हत्या की धमकी दी. इससे परेशान परिजन बाराबंकी की नगर कोतवाली पहुंचे और वकील पिता बीएल गौतम ने अज्ञात लोगों के खिलाफ तहरीर दी. जिसके बाद हरकत में आई पुलिस ने सर्विलांस के जरिए दोनों आरोपियों को लखपेड़ाबाग स्थित एक कमरे से दबोच लिया. पकड़े गए दोनों आरोपियों में एक सत्येंद्र कुमार बलिया और दूसरा नागेंद्र बहराइच का रहने वाला है. इन दोनों की रिश्तेदारी मृतक आशुतोष के गांव में है. यह दोनों बाराबंकी में ही रहकर जीवन यापन करते हैं.

अमीर बनने के चक्कर में कर दी हत्या 
वहीं, गिरफ्तार आरोपियों ने बताया कि वह लोग काफी गरीब हैं. इसीलिए पैसा कमाने के चक्कर में उन लोगों ने आशुतोष को पहले अपने कमरे पर ले गए. फिर उसकी हत्या करके फिरौती मांगी. अभियुक्त सत्येंद्र ने बताया कि उसकी आशुतोष के यहां रिश्तेदारी है. इसीलिए उसके यहां आना-जाना था. इसी का फायदा उठाकर उन लोगों ने इस वारदात को अंजाम दिया.

सिर पर तवा से हमला कर उतारा मौत के घाट
वहीं, बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने बताया कोतवाली पुलिस के साथ आरोपियों की निशानदेही पर शव बरामद कर लिया गया है. पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि कमरे में पार्टी करने के दौरान आशुतोष के सिर पर तवे से हमला किया. फिर अचेत होने पर उसकी गला दबाकर हत्या की थी. इसके बाद शव को रामसेवक स्कूल के पीछे स्थित एक नाले में फेंक दिया था. 

WATCH LIVE TV

Trending news