महंत नरेंद्र गिरी मौत मामला: तीनों आरोपियों की पॉलीग्राफी टेस्ट की मांग वाली अर्जी पर सुनवाई आज
X

महंत नरेंद्र गिरी मौत मामला: तीनों आरोपियों की पॉलीग्राफी टेस्ट की मांग वाली अर्जी पर सुनवाई आज

सीबीआई ने अपनी अर्जी में तीनों आरोपियों का पॉलीग्राफी टेस्ट कराने की मांग की है. अर्जी में कहा गया है की महंत मौत मामले की सच्चाई जानने के लिए तीनों का पॉलीग्राफी टेस्ट कराना जरूरी है. 22 सितंबर को सीजेएम कोर्ट ने आनंद गिरी और आद्या तिवारी को जेल भेजा है, जबकि तीसरे आरोपी संदीप तिवारी को 23 सितंबर को जेल भेजा गया था.

महंत नरेंद्र गिरी मौत मामला: तीनों आरोपियों की पॉलीग्राफी टेस्ट की मांग वाली अर्जी पर सुनवाई आज

प्रयागराज: महंत नरेंद्र गिरी (Mahant Narendra Giri)  मौत के तीनों आरोपियों का पॉलीग्राफी टेस्ट कराने की मांग वाली अर्जी पर आज सुनवाई होगी. प्रयागराज (Prayagraj) की सीजेएम कोर्ट सीबीआई की अर्जी पर सुनवाई करेगी. महंत मौत के तीनों आरोपियों के अधिवक्ता आज सीजेएम कोर्ट में अपना पक्ष रखेंगे. 

सीबीआई ने की तीनों आरोपियों का पॉलीग्राफी टेस्ट कराने की मांग 
सीबीआई ने अपनी अर्जी में तीनों आरोपियों का पॉलीग्राफी टेस्ट कराने की मांग की है. अर्जी में कहा गया है की महंत मौत मामले की सच्चाई जानने के लिए तीनों का पॉलीग्राफी टेस्ट कराना जरूरी है. 22 सितंबर को सीजेएम कोर्ट ने आनंद गिरी और आद्या तिवारी को जेल भेजा है, जबकि तीसरे आरोपी संदीप तिवारी को 23 सितंबर को जेल भेजा गया था.

प्रयागराज की नैनी सेंट्रल जेल में बंद हैं तीनों आरोपी
तीनों आरोपी मौजूदा समय में प्रयागराज की नैनी सेंट्रल जेल में बंद हैं. तीनों के खिलाफ महंत को खुदकुशी के लिए उकसाने के आरोप में एफआईआर दर्ज है. मामले की जांच कर रही सीबीआई ने तीनों आरोपियों की सात दिनो की कस्टडी रिमांड ले चुकी है. मठ के सेवादारों और कई संतो से भी घटनाक्रम को लेकर सीबीआई ने पूछताछ की है. महंत नरेंद्र गिरी और आनंद गिरी के कई करीबियों से भी सीबीआई ने गहनता से पूछताछ की है. अभी तक की सीबीआई जांच में महंत नरेंद्र गिरी के मौत की सच्चाई सामने नहीं आ सकी है.

20 सितंबर को हुई थी मौत 
बता दें कि महंत नरेंद्र गिरी की लाश 20 सितंबर को प्रयागराज स्थित बाघंबरी गद्दी मठ में पंखे से लटकते हुए मिली थी. उनके पास से एक कथित सुसाइड नोट भी बरामद हुआ था, जिसमें उन्होंने अपने शिष्य आनंद गिरी, लेटे हुए हनुमान मंदिर के पुजारी आद्या तिवारी और उनके बेटे संदीप तिवारी पर मानसिक प्रताड़ना का आरोप लगाया था. नरेंद्र गिरि ने पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों से इन तीनों पर कड़ी कानूनी कार्रवाई करने की मांग की थी. वहीं, घटना के बाद तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया था. फिलहाल तीनों आरोपी जेल में हैं. 

WATCH LIVE TV

Trending news