महंत नरेंद्र गिरी केस: आज क्राइम सीन का रिक्रिएशन कराएगी CBI, हर पहलु की होगी गहरी जांच

Mahant Narendra Giri Death Case: सीबीआई (CBI) आज क्राइम सीन का रिक्रिएशन कराएगी. इस मामले मे गिरफ्तार आरोपियों और गवाहों से पूछताछ भी करेगी. सीबीआई टीम आरंभिक दौर में प्रयागराज में कैंप ऑफिस बनाकर जांच करेगी. सभी पुलिस अधिकारी और मठ से जुड़े चश्मदीद रिक्रिएशन के वक़्त मौजूद रहेंगे.

महंत नरेंद्र गिरी केस: आज क्राइम सीन का रिक्रिएशन कराएगी CBI, हर पहलु की होगी गहरी जांच

विशाल सिंह/प्रयागराज: सीबीआई उन तमाम एगंलो की जांच करने जा रही है कि महंत नरेद्र गिरी महाराज की हत्या हुई थी या नहीं. उन्हें आत्महत्या के लिए उकसाया गया  या इसके पीछे क्या कोई और षडयंत्र था?  सीबीआई आज क्राइम सीन का रिक्रिएशन कराएगी. इस मामले मे गिरफ्तार आरोपियों और गवाहों से पूछताछ भी करेगी. सीबीआई टीम आरंभिक दौर में प्रयागराज में कैंप ऑफिस बनाकर जांच करेगी. सभी पुलिस अधिकारी और मठ से जुड़े चश्मदीद रिक्रिएशन के वक़्त मौजूद रहेंगे.

सीबीआई मुख्यालय में इस मामले की जांच विशेष अपराध शाखा दिल्ली को सौंप दी गई. विशेष अपराध शाखा की 20 सदस्यीय टीम कल प्रयागराज पहुंची थी और उसने अपनी जांच शुरू कर दी है. इस मामले की जांच सीबीआई के अतिरिक्त निदेशक डीसी जैन और संयुक्त निदेशक विप्लव चौधरी की निगरानी में की जायेगी.

आंबेडकर नगर: शहर की सड़कों और गलियों में घूमती नजर आएंगी पुलिस की साइकिल स्कॉट, सिपाही रहेंगे फिट

सोमवार को हुई थी महंत की मौत 
बता दें कि महंत नरेंद्र गिरि की लाश बीते सोमवार (20 सितंबर) को प्रयागराज स्थित बाघंबरी गद्दी मठ में पंखे से लटकते हुए मिली थी. उनके पास से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ था, जिसमें उन्होंने अपने शिष्य आनंद गिरी, लेटे हुए हनुमान मंदिर के पुजारी आद्या तिवारी और उनके बेटे संदीप तिवारी पर मानसिक प्रताड़ना का आरोप लगाया था. नरेंद्र गिरि ने पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों से इन तीनों पर कड़ी कानूनी कार्रवाई करने की मांग की थी. फिलहाल तीनों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया है. 

CBI कर रही है मामले की जांच 
सीबीआई ने शुक्रवार को इस मामले में प्रयागराज में अमर गिरी पवन महाराज की ओर से दर्ज कराई गई एफआईआर को आधार बनाकर नई एफआईआर दर्ज कर ली. सीबीआई की दिल्ली यूनिट ने आईपीसी की धारा 306 के तहत एफआईआर दर्ज की है यानी एजेंसी फिलहाल आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला मानकर इस केस की जांच करेगी. बता दें कि बुधवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश पर सीबीआई से जांच कराने की संस्तुति की गई थी. 

Video: बच्चे के ऊपर गिरने वाली थी दीवार, ढाल बनकर खड़ी हो गई मां, नहीं आने दी खरोंच

Gold Rate Today: सोने-चांदी में नरमी या उछाल, जानें लखनऊ-कानपुर में आज क्या चल रहा भाव

WATCH LIVE TV