आनंद गिरी को जानिए: ऑस्ट्रेलिया में लड़कियों से छेड़छाड़ के आरोप में जेल गए, शराब के लिए बदनाम हुए
X

आनंद गिरी को जानिए: ऑस्ट्रेलिया में लड़कियों से छेड़छाड़ के आरोप में जेल गए, शराब के लिए बदनाम हुए

उत्‍तराखंड के रहने वाले आनंद गिरी निरंजनी अखाड़ा का सदस्य थे. कुछ माह पहले ही उनपर संत परंपरा का निर्वहन ठीक से न करने और अपने परिवार से संबंध बनाए रखने का आरोप लगा था.

आनंद गिरी को जानिए: ऑस्ट्रेलिया में लड़कियों से छेड़छाड़ के आरोप में जेल गए, शराब के लिए बदनाम हुए

प्रयागराज: अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद (Akhil Bhartiya Akhara Parishad) के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी (Mahant Narendra Giri) की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत के मामले में पुलिस ने उनके शिष्य आनंद गिरी को गिरफ्तार कर लिया है. महंत नरेंद्र गिरी हाल में ही अपने शिष्य आनंद गिरी से विवाद में चर्चा में आए थे. हालांकि वह विवाद आनंद गिरी के माफी मांगने के बाद खत्म हो गया था, लेकिन मठ और मंदिर में आनंद का प्रवेश नहीं हो पाया था. लेकिन, आनंद गिरी पर आरोप इसलिए भी लग रहे हैं, क्योंकि आनंद गिरी का उनसे विवाद काफी पुराना था. आइए जानते हैं कौन है आनंद गिरी?

उत्तराखंड के रहने वाले हैं आनंद गिरी 
उत्‍तराखंड के रहने वाले आनंद गिरी निरंजनी अखाड़ा का सदस्य थे. कुछ माह पहले ही उनपर संत परंपरा का निर्वहन ठीक से न करने और अपने परिवार से संबंध बनाए रखने का आरोप लगा था. महंत नरेंद्र गिरी और आनंद गिरी के बीच लंबे वक्त से विवाद चल रहा था. 

विवादों के स्वामी: लग्जरी कारों के शौकीन, यौन उत्पीड़न के आरोपी, खुद को घुमंतू योगी बताते हैं आनंद गिरी

माना जा रहा था कि इस विवाद की जड़ बाघंबरी पीठ की गद्दी थी. पंचायती अखाड़ा श्री निरंजनी ने आनंद गिरी को इस साल 14 मई को अखाड़े और बाघंबरी गद्दी से बाहर कर दिया था. उनके गुरू नरेंद्र गिरी ने कहा था कि बड़े हनुमान मंदिर पर आने वाले दान-चढ़ावे का धन को आनंद गिरी अपने परिवार पर खर्च कर रहे हैं. 

पेट्रोल पंप खोलने को लेकर हुआ था विवाद 
जानकारी के अनुसार, बाघंबरी गद्दी की जमीन पर आनंद गिरी के नाम से पेट्रोल पंप खोलने की योजना थी. महंत नरेंद्र गिरी ने बताया था कि आनंद गिरी के नाम से ही 1200 वर्ग गज जमीन का एग्रीमेंट किया गया था और एनओसी भी मिल गई थी. मुझे जब इस बात का पता चला कि इस जगह पेट्रोल पंप नहीं चल पाएगा, तो मैंने उसे निरस्त करा दिया. इससे आनंद गिरी नाराज हो गए.

Narendra Giri Death Case: CBI जांच को लेकर HC में दाखिल हुई पत्र याचिका, मौनी महाराज ने सुनियोजित हत्या बताया

छेड़छाड़ के मामले में गए थे जेल
दो साल पहले आनंद गिरी ऑस्ट्रेलिया गए हुए थे. ऑस्ट्रेलिया के सिडनी शहर में महिलाओं के साथ छेड़छाड़ मामले में उन्हें जेल भी जाना पड़ा था. इसके अलावा ऑस्ट्रेलिया निवासी एक महिला ने उनपर अमर्यादित आचरण का आरोप लगाया था. पांच साल पहले जब योग गुरु नए साल के मौके पर रूटी हिल क्षेत्र स्थित एक घर में आयोजित प्रार्थना में शामिल होने गए थे तो वहां वे 29 वर्षीय महिला से मिले और उससे अमर्यादित आचरण किया. उस वक्त गुरु महंत नरेंद्र गिरी ने अपने शिष्य आनंद गिरी का बचाव किया था.

मुझे फंसाया जा रहा है, कुछ लोग चाहते थे महाराज और मेरे संबंध अच्छे न रहें- आनंद गिरी

सोशल मीडिया पर फोटो हुई थी वायरल 
कुछ माह पहले आनंद गिरी की एक फोटो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुई थी. जिसमें वो फ्लाइट में बैठे थे, साथ ही उनके पास एक ग्लास रखा था. तस्वीर देखने पर लग रहा था कि ग्लास में शराब है. जिसके बाद वो मठ के लोगों के निशाने पर आ गए. बाद में आनंद गिरी ने पूरे मामले पर सफाई दी और बताया कि वो शराब नहीं बल्कि एप्पल जूस था.

WATCH LIVE TV

Trending news